आखिर क्यों बुधवार को ही की जाती है भगवान गणेश की पूजा, जानें गणेशजी को प्रसन्न करने के उपाय

ganesh

चैतन्य भारत न्यूज

सनातन धर्म में प्रथम पूज्य देव श्रीगणेश को माना जाता है। बुधवार का दिन भगवान गणेश को समर्पित है। इस दिन विघ्नहर्ता गणेश की विशेष पूजा-अर्चना की जाती है। गणेश जी की पूजा वैसे भी सबसे पहले की जाती है, मान्यता है कि इनकी पूजा से सारे विघ्न टल जाते हैं। लेकिन सबसे अहम बात यह है कि भगवान गणेश की पूजा आखिर बुधवार को ही क्यों की जाती है? आइए जानते है इसके पीछे की वजह-

ganesh,siddivinayak,siddivinayaka mandir,mumbai,maharashtra,siddivinayak mandir mumbai

बुधवार को क्यों की जाती है भगवान गणेश की पूजा

हिंदू धर्म में सप्ताह का हर दिन किसी न किसी देवता को समर्पित है और उस दिन उनकी विशेष पूजा का विधान है। माना जाता है कि जिस देवता को जो दिन प्रिय है उसकी उस दिन पूजा करने से वे प्रसन्न होते हैं और हमारी हर इच्छा पूर्ण करते हैं। पौराणिक कथाओं में बताया गया है कि जब माता पार्वती के हाथों गणेश जी की उत्पत्ति हुई, तब कैलाश में बुध देव भी मौजूद थे। इस वजह से भगवान गणेश की पूजा-अर्चना के लिए उनके प्रतिनिधि वार बुध हुए। यही कारण है कि प्रत्येक बुधवार के दिन गणेश जी की आराधना होती है।

ganesh sankashti chaturthi 2019,ganesh sankashti chaturthi ka mahatava

बुधवार को श्रीगणेश को प्रसन्न करने के उपाय…

  •  बुधवार को जब गणेश जी की पूजा करें तो उन्हें दूर्वा जरूर अर्पित करें। दूर्वा से वे शीघ्र ही प्रसन्न होते हैं।
  • बुधवार को गजानन को गुड़-धनिया का भोग लगाएं। कहते हैं कि इससे भी उनकी कृपा जल्दी प्राप्त होती है।
  • इस दिन जब भी आप किसी खास काम से बाहर निकलें तो सौंफ खाकर निकलें। आपका काम बन जाएगा।
  • वहीं बुधवार का दिन बुध ग्रह से संबंधित है तो आप इस दिन हरे रंग के वस्त्र पहनेंगे तो अच्छा रहेगा।

ये भी पढ़े…

बुधवार को इन उपायों को अपनाकर करें भगवान गणेश को प्रसन्न, धन के साथ बढ़ेगा वैभव

बुधवार को इस विधि से करें भगवान गणेश की पूजा, जरूर मिलेगा फल

बुधवार व्रत रखने वाले इस विधि से करें भगवान गणेश की पूजा, पूरी होगी मनोकामना

Related posts