आग 48 घंटे में 10 गुना बढ़ी कैलिफोर्निया में लगी आग, दिल्ली से दोगुना क्षेत्र जलकर हुआ खाक

चैतन्य भारत न्यूज

कैलिफोर्निया के जंगलों की आग ने पिछले 48 घंटों में अपना रौद्र रूप ले लिया है। वह 10 गुना तेजी से बढ़ी है। इस अमेरिकी प्रांत में लगी आग की वजह से अब तक 65,474 एकड़ की जमीन खाक हो चुकी है। ये आग लगातार तेजी से फैलती जा रही है। 14 अगस्त को शुरु हुई ये आग बहुत तेजी से बड़े इलाके को जला चुकी है। ऐसी आशंका जताई जा रही है कि जिस गति से तेज हवा चल रही है, उसके अनुसार ये आग अन्य इलाकों में भी फैल सकती है।

कैलिफोर्निया के गवर्नर ऑफिस ऑफ इमरजेंसी ने बयान दिया है कि इस आग की वजह से एल-डोराडो काउंटी से 25 हजार लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है। आग को काबू करने के लिए 653 अग्निशमन कर्मी लगाए गए हैं। लेकिन अभी तक इस भयावह आग पर एक फीसदी भी नियंत्रण नहीं हो पाया है।

गुरुवार तक कैलिफोर्निया के डिपार्टमेंट ऑफ फॉरेस्ट एंड फायर प्रोटेक्शन ने बताया कि इस आग की वजह से 86 ढांचे पूरी तरह से खाक हो चुके हैं। इसके अलावा करीब 7000 इमारतों को जलने का खतरा है। इसबीच, कैलिफोर्निया के इतिहास में दूसरी सबसे भयावह आग डिक्सी फायर ने अब तक 60 हजार एकड़ जमीन को सिर्फ दो दिनों में जलाकर खाक कर दिया था।

डिक्सी फायर देश का पहली ऐसी जंगल की आग थी जिसने सियेरा नेवादा के रेंज को जलाकर खाक कर दिया है। ऐसा पहली बार हुआ है जब इस आग ने सियेरा नेवादा रेंज के पहाड़ के एक हिस्से को पूरा जला दिया। यहां तक कि इसका असर घाटी के निचले इलाकों तक देखने को मिला है।


कैल्डोर फायर की वजह से इंटरस्टेट हाइवे का 74 किलोमीटर लंबा इलाका बंद कर दिया गया है। हवा की गति करीब 65 किलोमीटर प्रतिघंटा है। इस इंटरस्टेट के दूसरी तरफ आग न फैले इसके प्रयास युद्धस्तर पर किए जा रहे हैं। कैलिफोर्निया के उत्तरी इलाके में 15 लाख एकड़ का हिस्सा जला हुआ है। सबसे ज्यादा दिक्कत ये है कि घास, झाड़ियां और जंगल सूखे हैं, उनमें तेज चलती हवा की वजह से आग लग रही है।

 

Related posts