अयोध्या नगरी को वर्ल्ड क्लास सिटी बनाने की तैयारियां शुरू, कनाडा की इस कंपनी को सौंपी जिम्मेदारी

चैतन्य भारत न्यूज

श्री राम की नगरी अयोध्या को वर्ल्ड क्लास सिटी बनाने की तैयारियां जोरों-शोरों से चल रही हैं। इसके लिए कनाडा की LEA एसोसिएट्स को कन्सल्टेंसी एजेंसी बनाया गया है। यह कंपनी अयोध्या नगरी का संपूर्ण विकास करेगी। साथ ही नगर नियोजन, पर्यटन, सिटी एरिया प्लानिंग बनाएगी।

दरअसल, उत्तर प्रदेश सरकार पिछले काफी दिनों से अयोध्या को वर्ल्ड क्लास सिटी बनाने की तैयारी में जुटी है। राम मंदिर की भव्यता को देखते हुए तीन कंपनियों से करार हुआ। अयोध्या की स्मार्ट सिटी एरिया प्लानिंग, रिवर एरिया डेवलपमेंट, हेरिटेज, टूरिज्म और अर्बन इंफ्रास्ट्रक्चर नियोजन के लिए यह करार हुआ है। अयोध्या डेवलपमेंट ऑथोरिटी ने LEA एसोसिएट्स साउथ एशिया प्राइवेट लिमिटेड का चयन किया है। देश-विदेश की दो अन्य कंपनियों को क्वालिटी एवं लागत आधारित चयन में मात देकर एलईए को चुना गया है।

जानकारी के अनुसार, 26 दिसंबर को अयोध्या विकास प्राधिकरण की तरफ से रिक्वेस्ट फ़ॉर प्रपोजल प्रकाशित किया गया था। रिक्वेस्ट फ़ॉर प्रपोजल के तहत,कई कंपनियों ने आवेदन किया था। कुल सात (7) प्रस्तावों में से छह निविदाकर्ता को प्रतिस्पर्धा हेतु अयोध्या विकास प्राधिकरण ने चुना था। निविदा मूल्यांकन समिति ने 70 से ज्यादा अंक हासिल करने वाली आखिरी तीन कंपनियों को अयोध्या का भव्य विजिन डॉक्यूमेंट तैयार करने के प्रतिस्पर्धा के लिए चुना। इन तीन कंपनियों में मैसर्स एलईए एसोसिएट्स साउथ एशिया प्राइवेट लिमिटेड, मैसर्स आइपीई और देश की नामी गिरामी मैसर्स टाटा कंसल्टिंग इंजीनियर्स को अंतिम प्रतिस्पर्धा के लिए चुना गया।

एलईए के पार्टनर के तौर पर, मैसर्स लार्सन एंड टुब्रो इंफ्रास्ट्रक्चर, इंजीनियरिंग लिमिटेड और मैसर्स सीपी कुकरेजा एसोसिएट्स कंसोशिर्यम सहयोगी कंपनी होंगीं। सभी चयनित कंपनी अयोध्या शहर का सर्वे के माध्यम से विस्तृत अध्ययन पर काम करेगी। अयोध्या की धार्मिक पर्यटन क्षमता और राम मंदिर की महत्ता को ध्यान में रखते हुए सर्वांगीण विकास पर काम का जिम्मा लेगी।

Related posts