मुंबई पुल हादसे में उच्च स्तरीय जांच के आदेश, बीएमसी के अधिकारियों के खिलाफ केस दर्ज

चैतन्य भारत न्यूज।

मुंबई। सीएसटी रेलवे स्टेशन के पास पुल हादसे में मरने वालों की संख्या 6 हो गई है। महाराष्ट्र की फडणवीस सरकार ने हादसे की उच्च स्तरीय जांच के आदेश दिए हैं। साथ ही बीएमसी के अधिकारियों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। मुंबई पुलिस ने धारा 304-ए यानी गैर इरादतन हत्या का मामला दर्ज किया है।

मुख्यमंत्री फडणवीस ने किया घटना स्थल का दौरा 

बता दें कि सीएसटी रेलवे स्टेशन जाना माना स्टेशन है। ये ब्रिज आजाद मैदान को सीएसटी रेलवे स्टेशन से जोड़ता है। पुल हादसे को लेकर पीएम मोदी, रेल मंत्री पीयूष गोयल ने दुख जताया है। मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने आज सुबह घटना स्थल का दौरा किया। मृतकों के परिजनों को 5 लाख और घायलों को 50 हजार रुपए मुआवजे का सीएम ने ऐलान किया है।

रेड सिग्नल से बची जिंदगियां

हादसे के समय पुल से थोड़ी दूरी पर रेड सिग्नल था। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि पुल ढहने से पहले रेड सिग्नल पर ट्रैफिक रूका हुआ था, जिससे कई जिंदगियां बच गई।

बता दें ये ब्रिज साल 1988 में बनाया गया था। 2016 में इसकी छोटी सी मरम्मत और पेंट किया गया था। दिसंबर 2018 में इस ब्रिज की मरम्मत का आवेदन निकाला था, लेकिन वो अब तक स्थाई समिति में लंबित है।

 

Related posts