आज है संकष्टी चतुर्थी, व्रत रखने वाले इस विधि से करें पूजा, पूरी होगी मनोकामना

sankashti chaturthi 2019,sankashti chaturthi ka mahatava

चैतन्य भारत न्यूज हिंदू धर्म में किसी भी शुभ कार्य को शुरू करने से पहले भगवान गणेश जी की पूजा-अर्चना की जाती है। भगवान गणेश की पूजा का महत्व संकष्टी चतुर्थी के दिन और भी बढ़ जाता है। इस बार संकष्टी चतुर्थी 15 दिसंबर को पड़ रही है। आइए जानते हैं संकष्टी चतुर्थी का महत्व और इसकी पूजा-विधि। संकष्टी चतुर्थी का महत्व संकष्टी चतुर्थी हर महीने की कृष्ण पक्ष और शुक्ल पक्ष की चतुर्थी तिथि को मनाई जाती है। पूर्णिमा के बाद आने वाली चतुर्थी को संकष्टी चतुर्थी कहते हैं।…

मंत्र जाप करते समय करें इन नियमों का पालन, तभी मिलेगा पूरा फल

mantras,mantra jaap ke niyam,

चैतन्य भारत न्यूज हिंदू धर्म में मंत्रों का विशेष महत्व है। मंत्रों के जाप का फल तभी मिलता है, जब उससे संबंधित नियमों का पूरी तरह के पालन किया जाए। कहते हैं कि मंत्रो के  नियमों का पालन करेंगे तो घर में न केवल सुख-शांति आएगी, बल्कि आपका स्वास्थ्य भी अच्छा रहेगा। आइए जानते हैं मंत्रों का नियम। मंत्र के प्रकार वाचिक जप- वाणी द्वारा सस्वर मंत्र का उच्चारण करना वाचिक जप की श्रेणी में आता है। उपांशु जप- भगवान के ध्यान में मन लगाकर, जुबान और होंठों को कुछ…

शुक्रवार की शाम इस तरह करें माता लक्ष्मी की पूजा, दूर होगी धन से जुड़ी समस्या

friday vrat,friday vrat ka mahatava,

चैतन्य भारत न्यूज हिंदू धर्म में हर दिन किसी न किसी देवी-देवता समर्पित है। इसके मुताबिक शुक्रवार का दिन माता लक्ष्मी का दिन होता है। मान्यता है कि इस दिन माता लक्ष्मी की पूजा करने से व्यक्ति की हर मनोकामना पूरी होती है। आइए जानते हैं इस व्रत का महत्व और पूजन-विधि। शुक्रवार व्रत का महत्व शुक्रवार का दिन मां लक्ष्‍मी की उपासना के लिए सबसे उपयुक्‍त माना जाता है। मान्यता है कि लक्ष्मी जी की पूजा करने से व्यक्ति के घर में कभी धन का अभाव नहीं रहता है।…

अन्नपूर्णा जयंती : माता पार्वती का स्वरूप हैं मां अन्नपूर्णा, यह व्रत करने से भरे रहते हैं भंडार

annapurna jayanti 2019,annapurna jayanti 2019 ka mahatava,annapurna jayanti 2019 pujan vidhi

चैतन्य भारत न्यूज मार्गशीर्ष मास की पूर्णिमा तिथि को अन्नपूर्णा जयंती मनाई जाती है। हिंदू धर्म में अन्नपूर्णा जयंती का काफी महत्व है। इस साल अन्नपूर्णा जयंती 12 दिसंबर दिन गुरुवार को है। माना जाता है कि, मां अन्नपूर्णा की आराधना और व्रत करने से घर में कभी धन-धान्य की कमी नहीं रहती है। आइए जानते हैं अन्नपूर्णा जयंती का महत्व और पूजन-विधि। अन्नपूर्णा जयंती का महत्व यह त्योहार मां पार्वती के अन्नपूर्णा स्वरूप को समर्पित है। इस दिन मां पार्वती ने अन्नपूर्णा रूप धारण किया था। अन्नपूर्णा जयंती को…

आज है स्नान दान पूर्णिमा, इस दिन व्रत को करने से मिलता है 32 गुना फल

snana purnima 2019,snana purnima ka mahatava,snana purnima pujan vidhi

चैतन्य भारत न्यूज मार्गशीर्ष या अगहन माह को अति पवित्र और श्रेष्ठ माना गया है। पुराणों में इस महीने की पूर्णिमा को भी महत्वपूर्ण और फलदायी माना गया है। इस पूर्णिमा पर स्नान, दान और भगवान विष्णु की पूजा करने का विधान है। मान्यता है कि इस दिन किसी पवित्र नदी में स्नान कर के दान करने से पापों का नाश होता है। इस बार स्नान पूर्णिमा 12 दिसंबर गुरूवार को है। आइए जानते हैं स्नान पूर्णिमा का महत्व और पूजन-विधि। स्नान पूर्णिमा का महत्व जिस तरह कार्तिक, माघ, वैशाख…

आज है मार्गशीर्ष व्रत पूर्णिमा, जानिए इसका महत्व और पूजन-विधि

purnima vrat,margashirsha purnima, margashirsha purnima ka mahatava

चैतन्य भारत न्यूज पूर्णिमा तिथि को हिंदू धर्म में बहुत ही खास माना जाता है। जो कि हिंदू पंचांग के अनुसार पूर्णिमा शुक्लपक्ष की 15वीं तिथि को होती है। इस दिन चंद्रमा आकाश में पूर्ण रूप से दिखाई देता है इसलिए इस दिन को बहुत शुभ माना जाता है। 11 दिसंबर को श्री दत्तात्रेय जयंती और व्रत की पूर्णिमा है। वहीं 12 दिसंबर को स्नान-दान की पूर्णिमा है। आइए जानते हैं व्रत पूर्णिमा का महत्व और पूजन-विधि। व्रत पूर्णिमा का महत्व पूर्णिमा व्रत का महत्व इसलिए अधिक होता है क्योंकि…

हनुमान जी को प्रसन्न करने के लिए मंगलवार को इस विधि से करें पूजा

mangalvar vrat,mangalvar vrat ka mahatava,mangalvar vrat pujan vidhi

चैतन्य भारत न्यूज हिंदू धर्म में मंगलवार के व्रत का महत्व बहुत अधिक माना जाता है। मान्यता है कि विधिपूर्वक व्रत रखने से व्रती सभी तरह के भय और चिंताओं से मुक्त हो जाता है। इस दिन भगवान हनुमान की पूजा की जाती है। आइए जानते हैं मंगलवार व्रत का महत्व और पूजन-विधि। मंगलवार व्रत का महत्व शास्त्रों के मुताबिक, मंगलवार के व्रत से हनुमान जी की विशेष कृपा प्राप्त होती है। यह व्रत सम्मान, बल, साहस और पुरुषार्थ को बढ़ाता है। संतान प्राप्ति के लिए भी है व्रत बहुत…

शिव की आराधना से मिलेगा विशेष फल, जानिए सोम प्रदोष व्रत का महत्व और पूजा-विधि

som pradosh vrat,som pradosh vrat ka mahatava,som pradosh vrat pujan vidhi

चैतन्य भारत न्यूज मार्गशीर्ष मास के शुक्ल पक्ष की त्रयोदशी तिथि को प्रदोष व्रत है। इस व्रत का हिंदू धर्म में काफी महत्व है। मान्यता है कि इस दिन भगवान शिव की आराधना करने से भक्तों को आरोग्य का आशीर्वाद प्राप्त होता है। भगवान शिव अपने भक्तों की सभी मनोकामनाएं पूरी करते हैं। इस बार सोम प्रदोष व्रत 9 दिसंबर को पड़ रहा है। आइए जानते हैं सोम प्रदोष व्रत का महत्व और पूजन-विधि। सोम प्रदोष व्रत का महत्व भगवान शिव की उपासना करने के लिए प्रदोष व्रत रखा जाता…

मोक्षदा एकादशी : इस दिन श्रीकृष्ण ने दिया था गीता उपदेश, जानिए इसका महत्व और पूजन-विधि

mokshada ekadashi,mokshada ekadashi ka mahatav,mokshada ekadashi pujan vidhi

चैतन्य भारत न्यूज मार्गशीर्ष (अगहन) शुक्ल एकादशी को मोक्षदा एकादशी के तौर पर जाना जाता है। इसका हिंदू धर्म में विशेष महत्‍व है। मान्‍यता है कि मोक्षदा एकादशी का व्रत करने से मनुष्‍यों के सभी पाप नष्‍ट हो जाते हैं। यही नहीं इस व्रत के प्रभाव से पितरों को भी मुक्ति मिलती है। इस बार मोक्षदा एकादशी 8 दिसंबर को पड़ रही है। आइए जानते हैं मोक्षदा एकादशी का महत्व और पूजा-विधि। मोक्षदा एकादशी का महत्व मान्‍यता है कि इस एकादशी का व्रत रखने से मनुष्‍य के मृतक पूर्वजों के…

शनिवार के दिन इस तरह पूजन से प्रसन्‍न होंगे शनिदेव, जानिए व्रत का महत्व और पूजा-विधि

shanivar vrat,shanivar vrat ka mahatava,shanivar vrat pujan vidhi

चैतन्य भारत न्यूज हिंदू धर्म में शनिवार का दिन शनि देवता को समर्पित है। शनिदेव हिंदू पुराणों में अपने क्रोध के लिए विख्यात हैं। मान्यता है कि जिस पर वे कुपित हो जाते हैं, उसके बुरे दिन शुरू हो जाते हैं। यही कारण है कि भक्ति से अधिक भय के कारण सारा संसार शनिदेव को पूजता है। आइए जानते हैं शनिवार व्रत का महत्व और पूजा-विधि। शनिवार व्रत का महत्व जीवन में ग्रहों का प्रभाव बहुत प्रबल माना जाता है और उस पर भी शनि ग्रह अशांत हो जाएं तो…