CBSE ने 11वीं कक्षा के छात्रों को दी ये बड़ी छूट, जानें डिटेल्स

चैतन्य भारत न्यूज

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड, CBSE ने अपने लाखों छात्रों के लिए बड़ी राहत की खबर दी है। ये राहत उन छात्रों के लिए है जो 10वीं का रिजल्ट आने के बाद 11वीं कक्षा में एडमिशन लेने की तैयारी कर रहे हैं।

सीबीएसई ने यह घोषणा की है कि, जिन छात्रों ने इस साल 10वीं कक्षा में बेसिक गणित का विकल्प चुना है, उन्हें बाद में पेपर के मानक संस्करण (Standard version) को लिखे बिना कक्षा 11वीं में विषय चुनने की अनुमति होगी। बता दें सीबीएसई ने वर्ष 2019 में 10वीं में मैथ्स बेसिक और स्टैंडर्ड दो तरह के विषय शुरू किये थे। बेसिक उनके लिए जो 10वीं के बाद मैथ्स नहीं पढ़ना चाहते। स्टैंडर्ड मैथ्स उनके लिए जो आगे मैथ्स पढ़ना चाहते हैं।

ये नया कॉन्सेप्ट उन छात्रों का कुछ बोझ कम करने के लिए है, जो उच्च कक्षा में गणित को आगे बढ़ाने की इच्छा नहीं रखते हैं। नियमों के अनुसार, कक्षा 11वीं और 12वीं में गणित जारी रखने की इच्छा रखने वालों को 10वीं कक्षा में गणित का मानक पेपर पास करना होगा।

ये दी गई छूट

सीबीएसई क्लास 11 में मैथ्स पढ़ने के लिए जरूरी है कि स्टूडेंट ने 10वीं में मैथ्स स्टैंडर्ड की पढ़ाई की हो। नहीं तो 11वीं में मैथ्स लेने के लिए बेसिक मैथ्स वालों को कंपार्टमेंट परीक्षा में मैथ्स का एग्जाम देना जरूरी है। लेकिन इस बार ये नियम लागू नहीं होंगे। कोविड-19 (Covid-19) के कारण सीबीएसई ने 2020 में पहली बार यह फैसला लिया था कि जिन स्टूडेंट्स ने 10वीं में बेसिक मैथ्स की पढ़ाई की है, वे भी 11वीं में मैथ्स की पढ़ाई कर सकते हैं। उन्हें कंपार्टमेंट के साथ अलग से मैथ्स की परीक्षा देने की भी जरूरत नहीं। कोरोना की परिस्थितियों के मद्देनजर बोर्ड ने इस साल भी अपना वह निर्णय जारी रखा है।

Related posts