बच्चों की हिंसक विदेशी गेम्स से लत छुड़ाने के लिए केंद्र सरकार ‘संस्कारी गेम’ लाने की तैयारी में, भगवान और वीर पुरुषों पर आधारित होंगे

चैतन्य भारत न्यूज

देशभर के युवाओं के बीच बहुत ही कम समय में लोकप्रिय होने वाले खेल ‘पबजी’ के बैन होने के बाद भी कई ऐसे खेल हैं जो विदेशी है। युवा ऐसे गेम्स की लत का शिकार हो जाते हैं। युवाओं को इस लत से बाहर निकालने के लिए अब केंद्र सरकार ऐसे मोबाइल गेम बनाने की तैयारी कर रही है जिससे बच्चों पर बुरा प्रभाव ना पड़े। ये गेम मनोरंजन के साथ-साथ हमारे देवी-देवता और देश के वीर और महापुरुषों के बारे में जानकारी भी देंगे।

इन स्वदेशी गेम को बनाने का मकसद ऑनलाइन गेम्स से विदेशी सोच में ढलती बच्चों की मानसिकता को रोकना है। इन स्वदेशी तथा संस्कारी गेम विकसित करने के लिए डॉ. पराग मनकीकर के नेतृत्व में बनी कमेटी ने एनिमेशन, विजुअल इफेक्ट्स, गेमिंग व कॉमिक्स (एवीजीसी) के लिए नेशनल सेंटर ऑफ एक्सीलेंस खोलने का ब्लूप्रिंट भी सरकार को दे दिया है। सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावडेकर ने इस बारे में कहा कि, स्वदेशी गेम्स को बनाने की योजना जुलाई-अगस्त तक साकार होने लगेगी।

विदेशी गेम्स हिंसा और हथियारों पर केंद्रित

डॉ. मनकीकर का कहना है कि, ‘हमारा उद्देश्य तेजी से बढ़ रहे ‘पॉजिटिविटी मार्केट’ में भारत को विश्वगुरु बनाना है। दरअसल, सभी विदेशी गेम्स में हिंसा और हथियार पर ही फोकस किया जाता है। इनका कारोबार भी 14.6 लाख करोड़ तक का है।’

डॉ. मनकीकर ने बताया कि, ;इन दिनों शिक्षा, टूरिज्म, व्यवसाय, मैनेजमेंट मिलिट्री स्किल्स वाले गेम्स का ट्रेंड भी बढ़ रहा है। पॉजिटिविटी वर्टिकल में स्वास्थ्य,ध्यान, प्राणायाम जैसे वेलनेस उपायों व मनोरंजन के लिए एवीजीसी में भारत के पास वर्कफोर्स तो है लेकिन वह बड़ी विदेशी कंपनियों के लिए काम कर रही है अपने देश के लिए नहीं। ऐसे में विदेशी कंपनियां हमारे युवाओं के कौशल का फायदा उठा रही हैं।’

AVGC पर करना होगा काम

डॉ. मनकीकर ने कहा कि, ‘युवाओं की लोकप्रिय भाषा एनीमेशन, विजुअल, गेमिंग और कॉमिक्स (AVGC) है। इससे हमें काम करना है। इसके लिए सेंटर ऑफ एक्सीलेंस के वर्चुअल ट्रेनिंग सेंटर के अलावा कौशल प्रशिक्षण केंद्र और राज्य स्तर पर ट्रेनिंग सेंटर खोलने की सिफारिश की गई है। हर सेंटर एक्सीलेंस क्लाउड से जुड़ा होगा। इस अभियान की अगुवाई सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय करेगा।’

Related posts