किसानों का चक्का जाम आज: दिल्ली की सड़कों पर फैला सुरक्षाबलों का जाल, 50 हजार सुरक्षाबल तैनात

चैतन्य भारत न्यूज

मोदी सरकार के नए कृषि कानूनों के खिलाफ शनिवार को यानी आज किसानों ने देश भर में राष्ट्रीय और राज्य राजमार्गों को दोपहर 12 बजे से 3 बजे तक चक्का जाम की घोषणा की है। किसी अनहोनी से बचने के लिए प्रशासन भी तैयारी में जुटा हुआ है। हालांकि किसानों ने दिल्ली-एनसीआर को इससे बाहर रखा है लेकिन फिर भी दिल्ली पुलिस अलर्ट है।


26 जनवरी के दिन हुई हिंसा को लेकर पुलिस इस बार कोई भी ढिलाई बरतने के पक्ष में नहीं है। दिल्ली पुलिस ने सिंघु और गाजीपुर बॉर्डर पर सुरक्षा के खास इंतजाम किए हैं। जानकारी के मुताबिक, दिल्ली पुलिस ने राष्ट्रीय राजधानी के सभी नाकों पर करीब 50,000 सुरक्षा बल तैनात किए हैं। इसमें अपने क्षेत्रों में निगरानी रखने के लिए स्थानीय पुलिस बल भी शामिल हैं। दिल्ली में कम से कम 12 मेट्रो स्टेशनों को अलर्ट पर रखा गया है।

पूर्व बीजेपी MLA की चक्का जाम की अपील

हरियाणा में बीजेपी छोड़ने वाले फतेहाबाद के पूर्व विधायक बलवान सिंह दौलतपुरिया ने 6 फरवरी के महा चक्का जाम को लेकर आमजन से की चक्का जाम को सफल बनाने की अपील की है। उन्होंने वीडियो बयान जारी कर महाचक्का जाम को सफल बनाने के लिए जन जन से सहयोग मांगा है।पूर्व विधायक बलवान सिंह ने कहा कि चक्का जाम सफल होगा तो केंद्र सरकार कृषि कानून वापस लेने के लिए मजबूर होगी।

3 बजे बजाएंगे एक मिनट तक हॉर्न

भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत ने यह ऐलान किया है कि उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में चक्का जाम नहीं होगा। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि चक्का जाम का असर दिल्ली में भी नहीं होगा। हालांकि चक्का जाम के दौरान इमरजेंसी और आवश्यक सेवाओं जैसे एम्बुलेंस, स्कूल बस आदि को नहीं रोका जाएगा। राकेश टिकैत ने कहा कि जो लोग यहां नहीं आ पाए वो अपने-अपने जगहों पर कल चक्का जाम शांतिपूर्ण तरीके से करेंगे। उन्होंने आगे बताया कि, 3 बजे 1 मिनट तक हॉर्न बजाकर, किसानों की एकता का संकेत देते हुए, चक्का जाम कार्यक्रम संपन्न होगा। हम जनता से भी अपील करते हैं कि वे अन्न दाता के साथ अपना समर्थन और एकजुटता व्यक्त करने के लिए इस कार्यक्रम में शामिल हों।

Related posts