16 जुलाई को है साल का अंतिम चंद्रग्रहण, 149 साल बाद बन रहा है यह दुर्लभ संयोग

chandra grahan 2019,chandra grahan date and time

चैतन्य भारत न्यूज

सूर्यग्रहण के बाद अब दुनियाभर में चंद्रग्रहण का प्रभाव देखने को मिलेगा। 16 और 17 जुलाई की मध्य रात्रि को चंद्रग्रहण दिखाई देगा। मध्यरात्रि के दौरान होने वाले इस चंद्रग्रहण का दुर्लभ संयोग 149 साल बाद बन रहा है। दरअसल, इस दिन चंद्रग्रहण और गुरु पूर्णिमा दोनों साथ में है। इससे पहले साल 1870 में ऐसा संयोग देखने को मिला था।

chandra grahan 2019,chandra grahan date and timeयह चंद्रग्रहण भारत में भी दिखाई देगा। भारत के अलावा चंद्रग्रहण एशिया, यूरोप, अफ्रीका, ऑस्ट्रेलिया और दक्षिण अमेरिका के कई देशों में दिखाई देगा। ज्योतिष के मुताबिक, इस ग्रहण का प्रभाव फलदायी और हानिकारक दोनों ही हो सकता है। यह चंद्रग्रहण खंडग्रास चंद्रग्रहण कहा जा रहा है।

chandra grahan 2019,chandra grahan date and time

ग्रहण और सूतक का समय

चंद्रग्रहण की पूरी अवधि कुल तीन घंटे की होगी। चंद्रग्रहण 16 जुलाई की रात 1:32 बजे से 17 जुलाई की सुबह 4:30 बजे तक रहेगा। इस दौरान ग्रहण उत्तराषाढ़ा नक्षत्र और धनु राशि में लगेगा। चंद्रग्रहण के कारण शाम को चार बजे मंदिर के पट बंद हो जाएंगे। पूरी रात बंद रहने के बाद मंदिर के पट सुबह 4 बजकर 45 मिनट पर खुलेंगे। बता दें यह इस साल का सबसे बड़ा ग्रहण है।

ये भी पढ़े…

इस दिन से शुरू होगा सावन का महीना, जानिए भगवान शिव से जुड़ी कुछ खास बातें और पूजा-विधि

12 जुलाई से शुरू हो रहा चातुर्मास, 4 महीने तक नहीं किए जाएंगे कोई भी शुभ कार्य

साप्ताहिक राशिफल : इस सप्ताह इन चार राशियों की चमकेगी किस्मत, जानिए कैसा बीतेगा आपका यह पूरा सप्ताह

 

Related posts