10 जनवरी को है साल का पहला चंद्रग्रहण, भारत समेत इन जगहों पर दिखाई देगा नजारा

chandra grahan 2020, chandra grahan 2020 effect

चैतन्य भारत न्यूज

साल 2020 का पहला चंद्रग्रहण 10 जनवरी शुक्रवार को पौष शुक्ल पूर्णिमा पर लग रहा है। यह चंद्रग्रहण 10 जनवरी की रात 10 बजकर 38 मिनट से शुरू होकर रात के 2 बजकर 42 मिनट तक चलेगा। यह चंद्रग्रहण मांद्य चंद्रग्रहण होगा। आइए जानते हैं क्या होता है मांद्य चंद्रग्रहण, ग्रहण का सूतक काल और कहां-कहां दिखाई देगा यह ग्रहण।



 chandra grahan 2020, chandra grahan 2020 effect

क्या होता है मांद्य चंद्रग्रहण

मांद्य का अर्थ है न्यूनतम यानी मंद होने की क्रिया। इसलिए इस चंद्रग्रहण को लेकर सूतक नहीं रहेगा। इसका किसी भी तरह का धार्मिक असर भी नहीं होगा। इस ग्रहण में चंद्र की हल्की सी कांति मलीन हो जाएगी। लेकिन, चंद्रमा का कोई भी भाग ग्रहण ग्रस्त होता दिखाई नहीं देगा। एशिया के कुछ देशों, यूएस आदि में ये ग्रहण देखा जा सकेगा। इस ग्रहण में चंद्रमा का करीब 90 प्रतिशत भाग धूसर छाया में आ जाएगा। यानी हल्की सी धूल-धूल वाली छाया। इस प्रभाव को भी बहुत कम ही लोग समझ पाएंगे। ये ग्रहण विशेष उपकरणों से आसानी से समझा जा सकेगा।

 chandra grahan 2020, chandra grahan 2020 effect

इन जगहों पर दिखाई देगा चंद्रग्रहण

भारत में यह चंद्रग्रहण दिखाई देगा। लेकिन मांद्य ग्रहण होने की वजह से इसका सूतक नहीं रहेगा। ज्योतिष नजरिए से देखा जाए तो यह चंद्र ग्रहण मिथुन राशि के पुनर्वसु नक्षत्र में घटित होगा। भारत के अलावा यह चंद्रग्रहण अमेरिका, कनाडा, ब्राजील, अर्जेंटीना जैसे देशों में दिखाई देगा।

ये भी पढ़े…

149 साल बाद दिखा चंद्रग्रहण का ऐसा अद्भुत नजारा, देखें तस्वीरें

चंद्रग्रहण 2019 : जानिए क्या होता है आंशिक चंद्रग्रहण, इस दौरान क्या करें और क्या न करें

चंद्र दर्शन से होगी शुभ फल की प्राप्ति, जानिए इस व्रत का महत्व और पूजन-विधि

Related posts