पृथ्वी की कक्षा से बाहर निकलकर चांद के सफर की ओर बढ़ा चंद्रयान-2

chandrayaan 2

चैतन्य भारत न्यूज

मिशन चांद पर निकला इसरो का ‘चंद्रयान-2’ पृथ्वी की कक्षा से बाहर निकल गया है। इसरो द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक, बुधवार सुबह करीब 3:30 बजे इसमें एक महत्वपूर्ण बदलाव किया, जिसे ट्रांस-ल्यूनर इंजेक्शन (TLI) कहा जाता है। इस दौरान चंद्रयान-2 पृथ्वी की कक्षा से बाहर निकलकर अपने लक्ष्य चंद्रमा की ओर आगे बढ़ गया है।

बता दें 20 अगस्त को चंद्रयान-2 चांद की कक्षा में प्रवेश करेगा और इसके करीब 18 दिन बाद यानी 7 सितंबर को चंद्रयान-2 चांद की सतह पर उतर जाएगा। इंडियन स्पेस रिसर्च ऑर्गनाइजेशन (ISRO) के चेयरमैन डॉ. के सिवन ने बताया था कि, ‘3850 किलो वजनी चंद्रयान-2 को 22 जुलाई को लॉन्च किया गया था और यह 7 सितंबर को चंद्रमा की सतह पर पहुंचेगा।’ उन्होंने यह भी कहा था कि, ‘चंद्रयान-2 को लॉन्च करने के बाद हमने करीब 5 बार उसके साथ प्रयोग किए हैं। अब तक चंद्रयान-2 धरती की चारों ओर परिक्रमा लगा रहा था लेकिन अब वह धरती की कक्षा छोड़कर चांद की ओर चला जाएगा।’

डॉ. के सिवन के मुताबिक, 20 अगस्त को चंद्रयान-2 चांद की कक्षा तक पहुंच जाएगा। इसके बाद चंद्रयान-2 का लूनर ऑर्बिट इंसर्शन होगा। साथ ही इसमें और भी कई प्रयोग किए जाएंगे और फिर 7 सितंबर को चंद्रयान-2 चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर उतरेगा। गौरतलब है कि कुछ दिन पहले ही इसरो ने कहा था कि, चंद्रयान-2 अच्छा काम कर रहा है और उसके सभी सिस्टम भी ठीक तरह से काम कर रहे हैं। इसे देखकर यह लग रहा है कि चांद पर जाकर वह सभी जानकारी जुटाने में सफलता हासिल कर सकता है।

ये भी पढ़े…

चंद्रयान-2 ने पहली बार भेजी तस्वीरें, दिखा अंतरिक्ष से धरती का बेहद खूबसूरत नजारा 

चंद्रयान-1 ने चांद पर खोजा था पानी, जानिए चंद्रयान-2 क्या-क्या पता लगाएगा

चांद को छूने के लिए भारत ने बढ़ाएं अपने कदम, सफलतापूर्वक लॉन्च हुआ चंद्रयान-2, देखें वीडियो

Related posts