आज दोपहर 2:43 बजे चांद के लिए उड़ान भरेगा चंद्रयान-2, देरी से लॉन्च होने के बावजूद तय समय पर पहुंचेगा

chandrayaan 2,chandrayaan 2 launch,chandrayaan 2 photos

चैतन्य भारत न्यूज

श्रीहरिकोटा. भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) का दूसरा मून मिशन चंद्रयान-2 आज यानी 22 जुलाई को दोपहर 2:43 बजे लॉन्च होगा। इसे देश के सबसे ताकतवर बाहुबली रॉकेट जियोसिंक्रोनस सेटेलाइट लॉन्च व्हीकल-मार्क-3 (जीएसएलवी-एमके3) से लॉन्च किया जाएगा। मिशन चंद्रयान-2 का काउंटडाउन शुरू हो चुका है।

रविवार को इसरो के अध्यक्ष के. सिवन ने जानकारी दी कि, ‘शाम 6:43 बजे से चंद्रयान-2 लॉन्च करने की उल्टी गिनती शुरू हो गई है।’ इस दौरान रॉकेट और अंतरिक्ष यान दोनों की जांच की जा रही है। रॉकेट के इंजन में ईंधन भरा गया। इसके बाद आज (सोमवार) दोपहर 2 बजकर 43 मिनट पर लॉन्च होगा। इसरो अध्यक्ष के मुताबिक, इसरो ने चंद्रयान-2 को चांद पर भेजने की पूरी तैयारी कर ली है। पहले लॉन्चिंग के समय जो भी खामियां आईं थीं उन्हें दूर कर दिया गया है।

इससे पहले चंद्रयान-2 की लॉन्चिंग 15 जुलाई को तड़के 2:51 बजे होने वाली थी। लेकिन लॉन्चिंग के कुछ ही मिनट पहले तकनीकी खराबी के चलते उड़ान को स्थगित कर दिया गया। इस बार इसरो ने कुछ बदलाव भी किए हैं। बता दें यदि 15 जुलाई को चंद्रयान-2 की सफलतापूर्वक लॉन्चिंग होती तो यान 6 सितंबर को चांद के दक्षिणी ध्रुव पर लैंड करता। लेकिन 22 जुलाई को इसकी लॉन्चिंग के बाद चंद्रयान-2 को चांद पर पहुंचने में सिर्फ 48 दिन ही लगेंगे। यानी इस बार भी चंद्रयान-2 अपने तय समय पर 6 सितंबर को ही चांद पर पहुंच जाएगा। जानकारी के मुताबिक, इसरो वैज्ञानिकों ने चंद्रयान-2 के पृथ्वी के चारों तरफ लगने वाले चक्कर में कटौती की है। संभवतः अब चंद्रयान-2 पृथ्वी के चारों तरफ 5 के बजाय 4 चक्कर ही लगाए।

गौरतलब है कि 15 जुलाई को लॉन्चिंग से पहले चंद्रयान-2 में क्रायोजेनिक स्टेज के कमांड गैस बॉटल में प्रेशर लीकेज था। इसके अंदर हीलियम भरा था जो कि क्रायोजेनिक इंजन में भरे लिक्विड ऑक्सीजन और लिक्विड हाइड्रोजन को ठंडा रखने का काम करता है। हीलियम लीकेज होने लगा था जिसके कारण बॉटल में हीलियम का प्रेशर लेवल नहीं बन रहा था। यह प्रेशर 330 प्वाइंट से घटकर 300, फिर 280 और अंत में 160 तक पहुंच गया था। इसलिए चंद्रयान-2 की लॉन्चिंग को रोकना पड़ा।

ये भी पढ़े…

आ गई चंद्रयान-2 की लॉन्चिंग की नई तारीख, इस दिन चांद को छूने निकलेगा भारत

56 मिनट पहले रोकी गई चंद्रयान-2 की लॉन्चिंग, जानिए क्या है वजह

इन दो महिलाओं के कंधों पर है चंद्रयान-2 मिशन की जिम्मेदारी

कुछ ही घंटों बाद चांद को छूने निकलेगा चंद्रयान-2, जानिए इतना महत्वपूर्ण क्यों है इसरो का यह मिशन

Related posts