छत्तीसगढ़ में कैश वैन से 1.64 करोड़ रुपए लूटकर भाग रहे बदमाशों को ग्रामीणों ने दबोचा, चार गिरफ्तार

atm van chori

चैतन्य भारत न्यूज

बेमेतरा (छत्तीसगढ़). छत्तीसगढ़ के बेमेतरा जिले में ग्रामीणों ने 1.64 करोड़ रुपए की लूट को नाकाम कर दिया। रुपए लूटकर भाग रहे बदमाशों ने ग्रामीणों पर फायरिंग भी की लेकिन ग्रामीणों ने उन्हें पकड़ लिया। हालांकि लूट के रूपयों को लेकर संशय हो गया है क्योंकि ग्रामीणों ने पुलिस को 80 लाख रुपए ही सौंपे हैं। शेष रकम के बारे में पता किया जा रहा है। कुछ ही घंटों में लुटेरों के पकड़े जाने में पुलिस को सोशल मीडिया नेटवर्क बहुत काम आया। वारदात होते ही पुलिस ने अपने जनमित्रों के वाट्सएप ग्रुप में जानकारी डाल दी और ग्रामीण सतर्क हो गए। डीजीपी दुर्गेश माधव अवस्थी ने लुटेरों को पकड़ने वाले ग्रामीणों और पुलिस वालों को सम्मानित करने की घोषणा की है।



पुलिस के मुताबिक, घटना नवागढ़ थाना क्षेत्र के अतरिया खेर गांव की है। सीएमएस नाम की कंपनी के कर्मचारी नवागढ़, छिरहा, बेरला, साजा और थाना खम्हरिया के एटीएम में नकदी डालने निकले थे। कंपनी और बैंक के कर्मचारियों ने शनिवार को भारतीय स्टेट बैंक की बेमेतरा मुख्य शाखा से एक करोड़ 64 लाख रुपए निकाले थे। पूरी रकम 500 रुपयों के नोटों के रूप में थी। बेमेतरा से 12 किमी दूर अतरिया मोड़ के पहले कैश वाहन का टायर पंक्चर हो गया। चालक कृष्णकुमार यादव, एटीएम वैन के प्रभारी संकल्प शर्मा, सहायक पुनाराम लहरी और गार्ड अनिल कुमार मिश्रा सहित अन्य कर्मी वाहन से उतर गए। कृष्णकुमार टायर खोलने लगा। अन्य कर्मी आसपास टहलने लगे। इसी दौरान बिना नंबर वाली सफेद रंग की होंडा सिटी कार आकर रुकी और उसमें से चार युवक उतरे। उन्होंने गार्ड पर रिवॉल्वर तानकर उसकी 12 बोर की बंदूक कब्जे में ले ली। इसके पहले कि अन्य कर्मी कुछ कर पाते. लुटेरे कैश वाहन में घुसे और नकदी थैले में भरकर कार से भाग निकले।

कैश वैन के एक कर्मचारी ने चार किमी दूर पड़कीडीह में अपने रिश्तेदारों को मोबाइल पर घटना की सूचना दे दी। तब तक कार पड़कीडीह पहुंच चुकी थी। ग्रामीणों ने कार रोकने के लिए पत्थराव भी किया जिससे कार के सामने का कांच टूट गया। लुटेरों गांव के अंदरूनी रास्तों पर भाग निकले।  घागुल गांव में ग्रामीणों ने पीछा किया तो कार वहीं छोड़कर पैसा लेकर पैदल भागने लगे। लुटेरों ने हवाई फायर भी किया, लेकिन ग्रामीणों ने उन्हें पकड़ लिया। आरोपियों में अमित, रिंकू उर्फ जसवंत हुड्डा और सोनू उर्फ संजीत हुड्डा रोहतक (हरियाणा) के रहने वाले हैं। चौथा आरोपी कुलदीप मलिक उत्तराखंड के रूड़की का बताया जा रहा है। उनके पास से दो रिवॉल्वर और कारतूस बरामद किया गया है। उन्होंने लूट में इस्तेमाल कार छह दिन पहले रायपुर के रांवाभाठा से लूटी थी।

ये भी पढ़े…

रेल मंत्री पीयूष गोयल के घर चोरी, आरोपित नौकर गिरफ्तार, महत्वपूर्ण दस्तावेज लीक करने का शक

कीमतें आसमान छूते ही चोरों ने 8.5 लाख रुपए के प्याज किए चोरी, ढूंढ रही पुलिस

35 करोड़ रुपए का सोने से बना टॉयलेट हुआ चोरी, डोनाल्ड ट्रंप को दिया था उधार

Related posts