छत्तीसगढ़: मुठभेड़ के दौरान, 15 नक्सली ढेर, 23 जवान शहीद, पीएम मोदी-शाह ने जताया दुख

चैतन्य भारत न्यूज

छत्तीसगढ़ के सुकमा-बीजापुर सीमावर्ती इलाके में शनिवार को सुरक्षा बलों और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ हुई थी। नक्सल हमले में सुरक्षाबलों के 21 जवान अब भी लापता हैं। रविवार सुबह से ही तलाशी अभियान चलाया जा रहा है। गृह मंत्री अमित शाह ने मुख्यमंत्री से फोन पर बात की है और सीआरपीएफ के महानिदेशक को घटनास्थल पर जाने के लिए कहा।


सुरक्षा बलों का दावा है कि 15 से ज़्यादा नक्सली बीजापुर इनकाउंटर में ढेर हुए हैं। एनकाउंटर साइट से महिला नक्सली का भी शव बरामद किया गया है। 20 नक्सलियों के घायल होने की खबर है। जानकारी के मुताबिक, मुठभेड़ में 23 जवान शहीद हो गए थे।इस मुठभेड़ में घायल 24 जवानों को बीजापुर अस्पताल लाया गया है। वहीं सात जवानों को उपचार के लिए रायपुर भेजा गया है। बस्तर आइजी सुंदरराज पी ने कोबरा बटालियन के एक जवान की शहादत की बात कही थी।

पीएम मोदी ने प्रकट की संवेदना

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जवानों के शहीद होने पर शोक जताया है। पीएम मोदी ने कहा कि जवानों के बलिदान को कभी नहीं भुलाया जाएगा। ट्वीट कर पीएम मोदी ने लिखा है, “मेरी संवेदनाएं छत्तीसगढ़ में शहीद हुए जवानों के परिजनों के साथ है। वीर शहीदों के बलिदान को कभी नहीं भुलाया जा सकेगा। घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना है।”

शहीद जवानों के बलिदान को कभी नहीं भूलेगा देश : गृह मंत्री

इस नक्सली हमले को लेकर गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि शहीद जवानों को मेरा नमन है। देश उनके बलिदान को कभी नहीं भूलेगा। अमित शाह ने कहा कि शहीद जवानों के परिवारों के साथ मेरी संवेदनाएं हैं। शांति और विकास के दुश्मनों के खिलाफ हमारी जंग जारी रहेगी।

आईईडी प्लांट करने के फिराक में थे नक्सली

जानकारी के अनुसार, नक्सली पिछले कुछ दिनों से लगातार बीजापुर, सुकमा ,कांकेर में कैंप कर रहे थे। इनकी संख्या करीबन 200 से 300 थी। सुरक्षाबलों को रिपोर्ट मिली थी कि नक्सलियों के कई डिविजनल कमांडर छत्तीसगढ़ के बीजापुर में कैंप कर रहे हैं। खुफिया रिपोर्ट में इस बात का भी खुलासा हुआ है कि नक्सली छत्तीसगढ़ के बीजापुर में आईईडी प्लांट करने का बड़ा प्लान कर रहे हैं।

Related posts