महाबलीपुरम में मोदी-जिनपिंग की मुलाकात, विकास और सहयोग पर होगी बात, नहीं छिड़ेगा कश्मीर मुद्दा

narendra modi, china president xi jinping

चैतन्य भारत न्यूज

नई दिल्ली. जम्मू-कश्मीर के मसले पर भारत-पाकिस्तान के बीच चल रही तनातनी के बीच चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग 11-12 अक्टूबर को भारत पहुंच रहे हैं। खास बात यह है कि, जिनपिंग का ये दौरा उस वक्त हो रहा है जब पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान बीजिंग में ही हैं।



खबरों के मुताबिक, शी जिनपिंग और पीएम मोदी की मुलाकात तमिलनाडु के महाबलीपुरम में होगी। जहां वह कई मंदिरों का दौरा करेंगे और दोनों देशों के बीच कई मसलों पर बात भी करेंगे। इसके अलावा करीब एक घंटे तक सांस्कृतिक कार्यक्रम में शामिल होंगे। पुरातत्त्वविद् एस राजावेलु के मुताबिक, महाबलीपुरम का चीन से करीब 2000 साल पुराना संबंध है। इस वजह से इस बैठक को ऐतिहासिक बल मिलेगा।

कहा जा रहा है कि, जिनपिंग के साथ चीन के विदेश मंत्री और पोलित ब्यूरो के सदस्य भी भारत आएंगे। इस बैठक के लिए कोई एजेंडा तय नहीं है, लेकिन सीमा विवाद, आतंकवाद, आतंकी गुटों की आर्थिक मदद और उन्हें बढ़ावा देने के मुद्दे पर चर्चा की उम्मीद है।

हालांकि सूत्रों के मुताबिक, जम्मू-कश्मीर, अनुच्छेद 370 पर इस दौरान बात नहीं होगी। क्योंकि भारत का कहना साफ है कि ये आंतरिक मामला है, ऐसे में इस पर चर्चा की जरूरत नहीं है। गौरतलब है कि, इससे पहले भी साल 2018 में वुहान में जिनपिंग-मोदी की मुलाकात हो चुकी हैं।

ये भी पढ़े…

50 लाख सरकारी कर्मचारियों को मोदी सरकार की बड़ी सौगात, 5% बढ़ा महंगाई भत्ता

 दुनिया को फिर अपनी ताकत दिखा रही भारतीय वायुसेना, पीएम मोदी ने वीडियो शेयर कर दी सलामी

स्वच्छ भारत अभियानके लिए पीएम मोदी को मिला ग्लोबल गोलकीपर अवॉर्ड कहा- यह करोड़ों भारतीयों का सम्मान

Related posts