चीन: समाज से बदला लेने के लिए बदमाश ने स्कूल में किया केमिकल अटैक, 51 बच्चें और 3 शिक्षक झुलसे

china school chemical attack

चैतन्य भारत न्यूज

केयुआन. चीन के एक किंडरगार्डन स्कूल में केमिकल हमला हुआ जिसमें करीब 51 बच्चे और तीन शिक्षक झुलस गए। जानकारी के मुताबिक, यह घटना दक्षिण पश्चिम चीन के यूनान प्रांत की है। बताया जा रहा है कि एक व्यक्ति जबरन ही स्कूल में घुस गया और वहां उसने बच्चों पर केमिकल फेंक दिया।


समाज से बदला लेने के लिए किया हमला

स्थानीय मीडिया के मुताबिक, घटना केयुआन शहर की है। 23 साल का कोंग नामक व्यक्ति दोपहर 3:35 बजे डोंगचेंग किंडरगार्डन स्कूल में दीवार फांद कर पहुंचा। इसके बाद उसने कास्टिक सोडा छिड़क कर बच्चों पर हमला कर दिया, जिसमें मासूम बच्चे और शिक्षक झुलस गए। घटना के तुरंत बाद 51 बच्चों और 3 शिक्षकों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। कहा जा रहा है कि कोंग ने मासूमों पर हमला समाज से बदला लेने के लिए किया। पुलिस ने हमलावर को घटना के 40 मिनट बाद ही गिरफ्तार कर लिया था।

मानसिक रूप से ठीक नहीं हमलावर

केयुआन की पुलिस ने बताया कि, ‘कोंग की पारिवारिक पृष्ठभूमि बेहद खराब रही है। उसके माता-पिता तलाकशुदा हैं। हमलावर का बचपन में कभी भी अच्छा नहीं रहा। साथ ही उसकी नौकरी और जीवन भी सही नहीं चल रहा है। इन सबकी वजह से वह मानसिक रूप से ठीक नहीं रह पा रहा है। इसीलिए हमलावर कोंग ने पूरे समाज से बदला लेने के लिए यह अपराध किया।’

इस साल में यह चौथी घटना

बता दें साल 2019 में चीन में यह इस तरह की चौथी घटना है। सबसे पहले जनवरी माह में राजधानी बीजिंग के एक स्कूल में एक व्यक्ति ने हथौड़े से हमला कर 20 बच्चों को घायल कर दिया था। इसके बाद अप्रैल में एक हमलावर ने मध्य चीन के हुनान प्रांत के एलीमेंट्री स्कूल में चाकू से हमला कर दो बच्चों को मार दिया था। इसके बाद मध्य चीन के हुबेई प्रांत के एक स्कूल में घुसकर एक व्यक्ति ने करीब 8 बच्चों को मार डाला था और दो लोगों को घायल कर दिया था। गौरतलब है कि चीन में बंदूकों को लेकर कड़े नियम हैं, लेकिन चाकू, केमिकल हमलों को लेकर मजबूत कानून नहीं है। इस वजह से पिछले कुछ सालों में चीन के स्कूलों में ऐसे हमले बढ़ गए हैं।

ये भी पढ़े… 

सार्वजनिक जगहों पर शर्ट उतारने पर लगेगा जुर्माना, चीन के लोगों ने कहा- अब एब्स कैसे दिखाएंगे

23 साल के इस दुबले-पतले लड़के ने चीन की नाक में किया दम, लाखों युवा प्रदर्शन में हुए शामिल

चीन में खुला दुनिया का सबसे बड़ा एयरपोर्ट, 100 फुटबॉल मैदान के बराबर, ऊपर उड़ेगा प्लेन और नीचे चलेगी ट्रेन

Related posts