चीन के दो छात्रों ने मशहूर मोबाइल कंपनी ‘एपल’ को लगाया 7 करोड़ का चूना

चैतन्य भारत न्यूज।

वाशिंगटन। अमेरिका में चीन के दो छात्रों ने मशहूर मोबाइल निर्माता कंपनी एप्पल से करीब 7 करोड़ की धोखाधड़ी की। अब इंजीनियरिंग के छात्रों यांगयांग झोउ और क्वान जियांग के खिलाफ संघीय अदालत में मुकदमा चल रहा है।

नकली आईफोन को मरम्मत के लिए भेजते थे

यह घोटाला 2017 में शुरू हुआ था जब इंजीनियरिंग छात्र यांगयांग झोउ व क्वान जियांग ने नकली आईफोन की चीन से अमेरिका में तस्करी करना शुरू कर दिया। इसके बाद वे आईफोन को मरम्मत या बदलने के लिए भेज देते और दावा करते कि उनका आईफोन (नकली) चालू नहीं हो रहा। रिपोर्ट में कहा गया है कि बहुत से मामलों में एप्पल ने नकली वस्तुओं को वास्तविक आईफोन से बदल दिया, जिसकी अनुमानित कीमत कंपनी ने 895,800 डॉलर बताई है। इसके बाद ये छात्र असली आईफोन को चीन भेज दिया करते थे।

एपल को करीब 7 करोड़ रुपए का घाटा

बताया जा रहा है कि इसमें एपल को करीब 7 करोड़ रुपए का घाटा हुआ है। रिपोर्ट के अनुसार, दोनों छात्रों ने 3,069 आईफोन की वारंटी के लिए दावा किया था, जिनमें से एपल ने 1,493 दावे को स्वीकार कर उन्हें नकली के बदले में असली आईफोन दे दिए। एक आईफोन के बदले में उन्हें 600 डॉलर (42,000 रुपए) का फायदा होता था।

रिपोर्ट में कहा गया है कि संघीय शिकायतों के अनुसार, जियांग व झोउ दोनों ने दावा किया कि उन्हें पता नहीं था कि फोन नकली हैं। रिपोर्ट में कहा गया है कि झोउ पर अवैध रूप से सामान निर्यात करने का आरोप है, जबकि जियांग पर अवैध रूप से नकली सामानों की तस्करी व धोखाधड़ी करने आरोप है।

Related posts