अब संत समाज से भी निकाले जाएंगे यौन शोषण आरोपित चिन्मयानंद

chinmyanand

चैतन्य भारत न्यूज

प्रयागराज. यौन उत्पीड़न के आरोप में जेल में बंद पूर्व केंद्रीय राज्य मंत्री स्वामी चिन्मयानंद की मुसीबतें कम होने की जगह और बढ़ती जा रही हैं। सूत्रों के मुताबिक, अब संत समाज चिन्मयानंद पर बड़ी कार्रवाई करने जा रहा है। कहा जा रहा है कि अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद ने चिन्मयानंद को संत समाज से निष्कासित करने का फैसला किया है।



चिन्मयानंद पर रेप का आरोप लगाने वाली छात्रा पर भी लटकी गिरफ्तारी की तलवार, तीन दोस्त हुए गिरफ्तार

बता दें 10 अक्टूबर को हरिद्वार में होने वाली बैठक में चिन्मयानंद को संत समाज से बाहर करने पर मुहर लगेगी। इस बैठक में सभी 13 अखाड़ा परिषद के साधु-संत शामिल होंगे। अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि ने कहा कि, ‘जहां एक ओर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने संत समाज का माथा ऊंचा कर रखा है, वहीं चिन्मयानंद ने संत समाज को अपमानित किया है। चिन्मयानंद संत परंपरा से आते हैं लेकिन यह कृत्य निंदनीय और शर्मनाक है। उनके कारण सभी साधु-संतों की बदनामी हो रही है। उन्हें कानून के मुताबिक सजा भुगतनी पड़ेगी, लेकिन संत समाज भी उन्हें अपने सानिध्य से बहिष्कृत करेगा।’ अखाड़ा परिषद ने यह भी कहा कि, जब तक कोर्ट के आदेश से वह निर्दोष साबित नहीं होते तब तक वह संत समाज से बहिष्कृत ही रहेंगे।

14 दिनों की न्यायिक हिरासत में चिन्मयानंद, कहा- मुझे अपने किए पर शर्म आती है 

क्या है मामला

बता दें शाहजहांपुर में स्थित एसएस लॉ काॅलेज की छात्रा ने 24 अगस्त को एक वीडियो शेयर कर चिन्मयानंद पर यौन शोषण के आरोप लगाए थे। सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले की जांच स्पेशल इन्वेस्टीगेशन टीम (एसआईटी) को सौंपी थी। इसके बाद 20 सितंबर को चिन्मयानंद को उनके मुमुक्ष आश्रम से गिरफ्तार किया था। कोर्ट ने उन्हें 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा है।

ये भी पढ़े…

पीड़ित छात्रा ने SIT को सौंपे चिन्मयानंद के 43 अश्लील वीडियो, कहा- मेरे नहाने का बनाया था वीडियो

चिन्मयानंद पर यौन शोषण का आरोप लगाने वाली छात्रा बरामद, सुप्रीम कोर्ट ने उसे पेश करने के निर्देश दिए

पूर्व केंद्रीय मंत्री स्वामी चिन्मयानंद पर लगा शारीरिक शोषण का आरोप 

रेप आरोपित पूर्व केंद्रीय मंत्री स्वामी चिन्मयानंद को SIT ने किया गिरफ्तार

 

Related posts