लद्दाख बॉर्डर पर भारतीय-चीनी सेना से झड़प, भारत के एक अफसर-दो जवान शहीद, रक्षा मंत्री ने बुलाई बैठक

india china army

चैतन्य भारत न्यूज

भारत और चीन के बीच पिछले काफी समय से लद्दाख में जारी विवाद अब और भी गहरा गया है। लद्दाख सीमा पर गलवान घाटी के पास दोनों सेनाओं के बीच सोमवार देर रात झड़प हो गई, जिसमें भारतीय सेना के एक अधिकारी और दो जवान शहीद हो गए। ये घटना तब हुई जब सोमवार रात को गलवान घाटी के पास जब दोनों देशों के बीच बातचीत के बाद सबकुछ सामान्य होने की स्थिति आगे बढ़ रह थी। भारतीय सेना ने अपने बयान में कहा है कि हिंसक झड़प में दोनों पक्षों को नुकसान हुआ है।


जानकारी के मुताबिक, इस झड़प के दौरान कुछ चीनी सैनिक भी घायल हुए हैं। भारतीय सेना द्वारा जारी किए गए आधिकारिक बयान में कहा गया है कि, ‘गलवान घाटी में सोमवार की रात को डि-एस्केलेशन की प्रक्रिया के दौरान भारत और चीन के सैनिकों के बीच हिंसक झड़प हुई। इस दौरान भारतीय सेना के एक अफसर और दो जवान शहीद हो गए हैं। दोनों देशों के वरिष्ठ सैन्य अधिकारी इस वक्त इस मामले को शांत करने के लिए बड़ी बैठक कर रहे हैं।’

इस मामले पर चीन के विदेश मंत्रालय ने टिप्पणी की है। बीजिंग ने उलटे भारत पर घुसपैठ करने का आरोप लगाया है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, बीजिंग का आरोप है कि भारतीय सैनिकों ने बॉर्डर क्रॉस करके चीनी सैनिकों पर हमला किया था। चीन के विदेश मंत्रालय ने कहा है, ‘यह भारत पर निर्भर है कि वह इस मामले को सहयोग से सुलझाएगा। भारत ऐसी स्थिति में एकतरफा कार्रवाई ना करे।’

लंबे वक्त से चल रही थी बातचीत की कोशिश

बता दें मई की शुरुआत से ही भारत और चीन के बीच लद्दाख बॉर्डर के पास तनावपूर्ण माहौल बना हुआ था। चीनी सैनिकों ने भारत द्वारा तय की गई LAC को पार कर लिया था और पेंगोंग झील, गलवान घाटी के पास आ गए थे। जानकारी के मुताबिक, चीन द्वारा यहां पर करीब पांच हजार सैनिकों को तैनात किया गया था, इसके अलावा सैन्य सामान भी इकट्ठा किया गया था।

ये भी पढ़े…

वैज्ञानिकों का दावा- चीन नहीं बल्कि फ्रांस में आया था कोरोना वायरस का पहला केस!

अमूल ने की चीनी सामान का बहिष्कार करने की पहल, तो ट्विटर अकाउंट हुआ ब्लॉक, भड़के लोग

चीन ने अब सबसे ऊंची चोटी माउंट एवरेस्ट पर बनाया 5जी इंटरनेट बेस स्टेशन, कई देशों पर रखेगा नजर

Related posts