सीधी बस हादसा: मृतकों के परिजन से मिले सीएम शिवराज, बिलखते हुए परिवार ने कहा- सड़क बनवा दीजिए…

चैतन्य भारत न्यूज

मध्य प्रदेश के सीधी में मंगलवार को बड़ा हादसा हो गया था। यहां 54 यात्रियों से भरी बस सीधे नहर में जा गिरी थी। इस हादसे में मरने वालों की संख्या 51 हो चुकी है। मंगलवार रात तक 47 शव मिले थे। बुधवार को 4 शव और मिले, जिसमें 5 महीने की एक बच्ची का शव रीवा में मिला। 3 लापता लोगों की तलाश अब भी जारी है। बुधवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान हादसा स्थल का दौरा करने पहुंचे। हादसा स्थल के बाद मुख्यमंत्री ने मृतकों के परिजनों से मुलाकात की। इस दौरान पीड़ित परिवार ने कहा कि, ‘अगर सड़क जाम नहीं होती, तो हमारे बच्चे और पत्नी जिंदा होती, सड़क बनवा दीजिए।’

मृतकों के परिजन से मिले सीएम

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सीधी के रामपुर नैकिन पहुंचे।इस गांव में पहुंचकर उन्होंने गुप्ता परिवार से मुलाकात की। सीधी बस हादसे में सुरेश गुप्ता अपनी बहू पिंकी और पोते अथर्व के साथ सफर कर रहे थे। सुरेश तो बच गए, लेकिन उनकी बहू-पोता नहर में डूब गए थे। सीएम ने संवेदना व्यक्त कर हर संभव मदद का भरोसा दिलाया।

सीएम ने बताया क्यों नहीं आए कल

सीएम ने कहा कि, ‘बस हादसा बेहद दुखद है। मैं कल सीधी इसीलिए नहीं गया ताकि रेस्क्यू में कोई अड़चन ना आए, जो बेटे बेटियां हादसे में चले गए हैं, उन्हें लौटा के नहीं ला सकता, लेकिन उनके परिवारजनों की जिंदगी को कैसे आसान बना सकें उनके साथ में खड़ा हूं।’ सीएम अब अन्य मृतकों के परिजनों से मुलाकात करने जाएंगे।

पीएम और सीएम ने की है आर्थिक मदद की घोषणा

हादसे के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभी मृतकों के परिजनों को लेकर 2-2 लाख रुपए मुआवजा देने की घोषणा की है। साथ ही सीएम शिवराज सिंह चौहान ने भी मृतक के परिजनों के लिए 5-5 लाख रुपए की मुआवजे की घोषणा की है। इसके अलावा गंभीर रूप से जख्मी लोगों को भी 50 हजार रुपए का मुआवजा दिया जाएगा।

Related posts