लाइव शो में हैदराबाद की पीड़िता का नाम लेने पर अलका लांबा और अंजना ओम कश्यप के बीच छिड़ी बहस, कहा- शर्म करो..

alka lamba anjana om kashyap

चैतन्य भारत न्यूज

नई दिल्ली. तेलंगाना में महिला डॉक्टर के साथ हुई हैवानियत से पूरा देश आक्रोशित है। हर कोई महिला के लिए इंसाफ की गुहार लगा रहा है। सोशल मीडिया और टीवी पर भी इस मुद्दे को लेकर बहस हो रही है। कई लोग पीड़िता की तस्वीर शेयर कर सोशल मीडिया पर उसके नाम का हैशटैग भी इस्तेमाल कर रहे हैं, जो कि पीड़िता की निजता के अधिकार का उल्लंघन है। इसी मुद्दे पर आज तक (Aaj Tak) टीवी चैनल पर आयोजित एक डिबेट शो (हल्ला बोल) के दौरान कांग्रेस नेता अलका लांबा और होस्ट और एंकर अंजना ओम कश्यप के बीच तीखी बहस हो गई। इस बहस का वीडियो भी सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है।


अलका ने टीवी एंकर को जमकर लताड़ा

वीडियो के मुताबिक, यह बहस पीड़िता का नाम उजागर करने को लेकर हुई। अलका लांबा ने डीबेट के दौरान चैनल पर एक खास एजेंडा के तहत काम करने का आरोप लगाते हुए टीवी एंकर को जमकर लताड़ा। साथ ही उन्होंने यह सवाल किया कि, दुष्कर्म की खबर के बाद पीड़िता का नाम सोशल मीडिया पर ट्रेंड कैसे होने लगता है? ये किसके द्वारा किया जाता है। दरअसल, मंगलवार को आजतक चैनल पर हैदराबाद में हुई घटना के मुद्दे पर बहस की गई। इस दौरान अलका लांबा ने हैदराबाद की पीड़िता का नाम सार्वजनिक किया। जिसके बाद अंजना ओम कश्यप ने सवाल पूछ रहे एक दर्शक से गुजारिश की कि वह पीड़िता का नाम ना लें। साथ ही उन्होंने बहस में हिस्सा ले रहे सभी सदस्यों से भी ऐसा ही अनुरोध किया। अंजना ने अलका लांबा से भी गुजारिश करते हुए कहा कि, वह पीड़िता का नाम ना लें। अलका लांबा इसपर भड़क गईं।

निर्भया का दिया उदाहरण

अलका ने दावा किया कि, उन्होंने बहस में पीड़िता का नाम लिया ही नहीं। उल्टे वे इस बात पर भी जोर देने लगीं कि आखिर पीड़िता का नाम लेने में बुराई क्या है? इसके बाद अलका ने निर्भया केस का उदाहरण दिया। उन्होंने कहा कि, ‘निर्भया की मां स्वयं चाहती हैं कि निर्भया का नाम उजागर हो, वो डरपोक नहीं बहादुर थी। दुष्कर्म की घटनाएं लगातार बढ़ रही हैं और इस पर कार्रवाई की मांग करने के स्थान पर मुद्दों को क्यों भटकाया जा रहा है?’ उन्होंने आगे कहा कि, ‘रेप के आरोपियों को चुनाव लड़ने की अनुमति दी जाती है और जनता उनको चुनकर सांसद बनाकर अपने सिर पर भी बैठा देती है।’

रेप पीड़िता जेल में और आरोपी अस्पताल में

साथ ही अलका ने उन्नाव रेप पीड़िता का भी जिक्र करते हुए कहा कि, ‘पीड़िता का एक्सीडेंट करा दिया जाता है वो ट्रॉमा सेंटर में भर्ती है और आरोपी विधायक को अब तक सजा नहीं हुई।’ वहीं पूर्व केंद्रीय मंत्री चिन्मयानंद का नाम लेते हुए उन्होंने कहा कि, ‘रेप पीड़िता जेल में है और आरोपी अस्पताल में है।’

ट्वीटर पर साधा निशाना

इतना ही नहीं बल्कि अलका लांबा ने एक वीडियो शेयर करते हुए ट्वीटर पर लिखा कि, ‘अंजना ओम कश्यप कल के लाइव शो में मुझे कह रहीं थीं कि हम सुप्रीम कोर्ट की गाइड लाइन का सम्मान करते हैं… रेप पीड़िता का नाम मैंने लिया है… कुछ तो शर्म करो…बेहतर होगा पत्रकारिता छोड़ कर कहीं कोई दूसरा रोजगार खोज लो…अंजना ओम मोदी… सॉरी अंजना ओम कश्यप।’

चारों आरोपित गिरफ्तार

गौरतलब है कि हैदराबाद में एक महिला पशु डॉक्टर के साथ पहले दुष्कर्म किया गया और फिर उन्हें जिंदा जला दिया गया। इस मामले में पुलिस ने चार आरोपितों को गिरफ्तार किया है।

ये भी पढ़े…

तीन पुलिसवाले सस्पेंड, लोगों ने पुलिस पर फेंकी चप्पल, आरोपी की मां बोली- मेरे बेटे को भी जिंदा जला दो

आरोपितों ने किया सामूहिक दुष्कर्म, पूरी योजना के साथ दिया वारदात को अंजाम

बलात्कारियों को 6 महीने के भीतर सजा दिलाने के लिए अनशन पर अड़ीं स्वाति मालीवाल, पीएम मोदी को भी लिखा पत्र

Related posts