मई महीने में कोरोना सबसे ज्यादा घातक: 21 दिनों में ही रिकॉर्ड 71.3 लाख मरीज मिले, बेहद डरावने हैं मौत के आंकड़े

चैतन्य भारत न्यूज

देशभर में कोरोना महामारी का कहर जारी है। कोरोना के मामले भले ही कम होने लगे हैं, लेकिन मई के महीने में महामारी ने सबसे ज्यादा कहर बरपाया है। मई के महज 21 दिनों में ही देश में 71 लाख से ज्यादा नए मरीजों की पहचान हुई है। मौत के लिहाज से भी मई के आंकड़े डराने वाले हैं। पहली लहर की तुलना में दूसरी लहर ने काफी ज्यादा कहर मचाया है।

मई के 21 दिनों के आंकड़ों पर ही नजर डाले तो देश में रिकॉर्ड 71।3 लाख लोग संक्रमित हुए और 83,721 लोगों की मौत हुई। यह आंकड़ा एक महीने में मिलने वाले संक्रमितों और मौत के मामले में सबसे ज्यादा है। इससे पहले अप्रैल में 69।36 लाख लोग कोरोना की चपेट में आए थे और 48,879 लोगों की मौत हुई थी।

पहली लहर की तुलना में हालात दोगुने तक खराब

कहा जा रहा है कि बीते साल सितंबर के महीने में कोरोना वायरस की पहली लहर अपने चरम पर थी। उस दौरान 26।2 लाख के करीब नए मामले सामने आए थे। जबकि, मौतों की संख्या 33।3 हजार पर थी। वहीं, अगस्त 2020 में संक्रमण के 19।9 लाख नए मामले दर्ज किए गए थे। जबकि, मौत के आंकड़ा 28।9 हजार पर था।

देश में कोरोना महामारी आंकड़ों में

  • बीते 24 घंटे में कुल नए केस आए: 2.57 लाख
  • बीते 24 घंटे में कुल ठीक हुए: 3.57 लाख
  • बीते 24 घंटे में कुल मौतें: 4,194
  • अब तक कुल संक्रमित हो चुके: 2.62 करोड़
  • अब तक ठीक हुए: 2.30 करोड़
  • अब तक कुल मौतें: 2.95 लाख
  • अभी इलाज करा रहे मरीजों की कुल संख्या: 29.18 लाख

 

Related posts