MP : इंदौर-भोपाल में ना श्मशान में जगह ना अस्पताल में बेड खाली, इंजेक्शन की भी कमी, 4 बड़े शहरों में 2,500 से ज्यादा मरीज मिले

चैतन्य भारत न्यूज

कोरोना संक्रमण मध्यप्रदेश में मुसीबतें बढ़ा रहा है। भोपाल और इंदौर में बेड से लेकर श्मशानों तक में वेटिंग चल रही है। हालात ऐसे है कि भोपाल के श्मशान घाट के प्रबंधकों ने शनिवार को नगर निगम और अस्पतालों को फोन करके और शव न भेजने की अपील की है।

बेड फुल, इंजेक्शन की कमी

बात दें राजधानी भोपाल में 56 कोरोना संक्रमितों के शव लाए गए थे। हालांकि सरकारी रिकॉर्ड में 1 की मौत कोरोना से बताई गई है। ना सिर्फ भोपाल बल्कि इंदौर में भी 40 बड़े अस्पतालों में 3 से 4 दिन की वेटिंग है। ICU के 80% बेड फुल हैं। रेमडेसिविर के 2 हजार इंजेक्शन की कमी है। 24 घंटे में प्रदेश में 5939 केस मिले हैं। 24 की मौत हुई है। इंदौर में सबसे ज्यादा 919, भोपाल में 793, ग्वालियर में 458, जबलपुर में 402 संक्रमित मिले। चारों बड़े शहरों में यह अब तक का सबसे बड़ा आंकड़ा है।

इन जगह बढ़ा लॉकडाउन

इसके अलावा इंदौर,महू, राऊ नगर, शाजापुर और उज्जैन के शहरी क्षेत्र में 19 अप्रैल तक का लॉकडाउन बढ़ाया गया है। भोपाल में लॉकडाउन बढ़ाने को लेकर आज यानी रविवार को फैसला लिया जाएगा। हालांकि कोलार-शाहपुरा क्षेत्र में पहले से ही 7 दिन का लॉकडाउन लगाया गया है। सभी जिलों में नाइट कर्फ्यू पहले से ही है।

Related posts