कोरोना का कहर: महाराष्ट्र के 4 शहर पूरी तरह लॉकडाउन, सिर्फ ये दुकानें रहेंगी खुली

maharashtra lockdown

चैतन्य भारत न्यूज

मुंबई. देशभर में कोरोना वायरस तेजी से फैल रहा है। अब तक भारत में इसके 210 से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं। भारत में कोरोना वायरस के मरीजों की सबसे अधिक संख्या महाराष्ट्र में है। बढ़ते खतरे को देखते हुए महाराष्ट्र सरकार ने 4 शहरों को लॉकडाउन करने का फैसला किया है। यानी इन 4 शहरों में जरूरी दुकानों और सेवाओं को छोड़कर सभी दुकानें और दफ्तर 31 मार्च तक बंद रहेंगे।


ये चार शहर रहेंगे बंद

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने जिन चार शहरों में लॉकडाउन का ऐलान किया है उनमें मुंबई, पुणे, नागपुर और पुणे से सटे पिंपरी चिंचवाड़ शामिल हैं। सीएम उद्धव ठाकरे ने कहा कि, ‘लोगों से बार-बार घर में रहने की अपील की जा रही है, लेकिन इसके बावजूद लोग ट्रेन और बसों में दिख रहे हैं। उनके पास बसों को बंद करने का भी विकल्प है लेकिन इससे डॉक्टरों और जरुरी सेवाओं के क्षेत्र में काम करने वालों को परेशानियां होंगी।’ सीएम ठाकरे ने यह भी कहा कि, ‘सरकारी कार्यालय में 25 प्रतिशत उपस्थिति रहेगी।’

ये दुकानें रहेंगी खुली

सीएम ठाकरे ने संबोधन में कहा कि, ‘सिर्फ अनिवार्य सेवाएं खुली रहेंगी जिसमें भोजन, दूध और दवाइयां शामिल हैं। बैंक खुले रहेंगे। सरकारी कार्यालय में उपस्थिति को बारी-बारी से मौजूदा 50 फीसदी से 25 फीसदी तक किया जाएगा। पहले 50 फीसदी हाजिरी की घोषणा की गई थी।’

15 दिनों तक अधिक सतर्क रहने की जरूरत

उद्धव ठाकरे ने यह भी कहा कि, ‘लोगों ने कल की गई अपील का जवाब दिया है। भीड़ कम हो गई है, फिर भी हमें अगले 15 दिनों के लिए अतिरिक्त सतर्क रहना होगा। हमारे पास एकमात्र हथियार भीड़ से बचना है, लेकिन फिर भी हम कुछ निर्णय ले रहे हैं, आप पसंद नहीं कर सकते हैं।’

महाराष्ट्र में इतने लोग कोरोना संक्रमित

बता दें भारत में महाराष्ट्र में अब तक कोरोना के 52 मामले सामने आए हैं, जिसमें एक की मौत हो गई है। इनमें से अधिकांश मरीज इन्हीं चार शहरों से हैं और उन्होंने विदेश की यात्रा की थी।

ये भी पढ़े…

सिंगर कनिका कपूर को हुआ कोरोना वायरस, बिना जांच एयरपोर्ट से निकली, 400 से ज्यादा लोगों के साथ की पार्टी

भारत में कोरोना वायरस से 5वीं मौत, इटली के नागरिक ने जयपुर में तोड़ा दम

शरीर में धीरे-धीरे बढ़ने लगते हैं कोरोना वायरस के लक्षण, आप भी हो जाइए सतर्क

Related posts