कोरोना वायरस: सीएम योगी का ऐलान- ‘वर्क फ्रॉम होम’ करेंगे सरकारी और निजी कर्मचारी, सभी परीक्षाएं स्थगित

yogi government

चैतन्य भारत न्यूज

लखनऊ. भारत में कोरोना वायरस के मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए कई राज्यों की सरकार अहम फैसले ले रही है। मंगलवार को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में बैठक हुई। इसमें कोरोना के बढ़ते खतरे को देखते हुए कई निर्णय लिए गए हैं।


घर से काम करेंगे सरकारी-निजी कर्मचारी

सरकारी कार्यालयों में भीड़ खत्म करने के लिए कर्मचारियों को घर से काम (work from home) करने की व्यवस्था सुनिश्चित की जाएगी। इसके लिए मुख्य सचिव की अध्यक्षता में एक कमेटी बनाई गई है। यह कमेटी घर से काम करने की व्यवस्था सुनिश्चित कराएगी। इसके अलावा योगी सरकार ने प्राइवेट फार्म में काम करने वाले कर्मचारियों को भी घर से काम करने के निर्देश दिए हैं।

कोरोना का मुफ्त इलाज करने की घोषणा

इसके अलावा बैठक में उत्तरप्रदेश में सभी परीक्षाएं और प्रतियोगी परीक्षाएं स्थगित कर दी गई हैं। साथ ही स्कूल-कॉलेज और सिनेमा घरों के बंद रहने की तारीख को और आगे बढ़ा दिया है। यानी अब उप्र में दो अप्रैल तक स्कूल-कॉलेज और सिनेमा घर बंद रहेंगे। सरकार ने सभी धरना-प्रदर्शनों पर भी रोक लगा दी है। योगी सरकार ने कोरोना का मुफ्त इलाज किए जाने की भी घोषणा की है।

पर्यटक स्थल 31 मार्च तक बंद

योगी कैबिनेट की बैठक में मुख्यमंत्री ने कोरोना पर केंद्र सरकार की एडवायजरी का 100 फीसदी पालन करने को भी कहा है। इसके अलावा उन्होंने सभी प्रदेशवासियों से भीड़भाड़ वाले इलाके में न जाने की अपील की है। प्रदेश के सभी पर्यटक स्थल 31 मार्च तक बंद रहेंगे।

मजदूरों को धनराशि देगी सरकार

कैबिनेट बैठक के बाद सरकार के प्रवक्ता श्रीकांत शर्मा ने मीडिया से बातचीत करते हुए बताया कि, ‘फिलहाल कोरोनावायरस स्टेज टू में है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यतनाथ ने सभी लोगों से अपील की है कि इसके स्टेज थ्री में पहुंचने से पहले रोकना है।’ इसके अलावा बंद होने के चलते रोजमर्रा का काम करने वाले लोगों का भरण पोषण हो सके इसके लिए वित्तमंत्री की कमेटी तीन दिन में रिपोर्ट देगी। इसमें कृषि मंत्री और श्रम मंत्री शामिल हैं। योगी सरकार मजदूरी करने वाले लोगों को कुछ धनराशि उनके अकाउंट में देगी। जिससे वह लोग घर पर रहे और उनका जीवन-यापन भी चलता रहे।

कालाबाजारी पर होगी कड़ी कार्रवाई

राज्य में मास्क व सैनेटाइजर की कालाबाजारी को रोकने के लिए खाद्य एवं औषधि प्रशासन विभाग को सक्रिय किया गया है। मुख्यमंत्री योगी ने कालाबाजारी पर कड़ी कार्रवाई का आदेश दिया है। उन्होंने बताया कि, कोरोना से निपटने के लिए पूरी तैयारी कर ली गई है। साथ ही मुख्यमंत्री ने इसके लिए जन सहयोग की अपेक्षा की है।

ये भी पढ़े…

भारत में कोरोना वायरस से तीसरी मौत, देश में अब तक 127 लोग संक्रमित

कोरोना वायरस की वजह से 21 वर्षीय युवा फुटबॉल कोच फ्रांसिस्को गार्सिया की मौत

ट्रेनों में भी कोरोना वायरस का डर, यात्रियों को कंबल नहीं देगा मध्य और पश्चिमी रेलवे

अमिताभ ने लिखी कोरोना वायरस पर कविता, कहा- आने दो कोरोना-वोरोना

Related posts