भारत में धीरे-धीरे कमजोर होने लगी कोरोना वायरस की शक्ति, ये बातें कर रहीं इशारा

चैतन्य भारत न्यूज

नई दिल्ली. भारत में कोरोना वायरस का कहर अब भी जारी है। स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक, देश में कोरोना वायरस संक्रमितों की संख्या 17 हजार को पार कर गई है। अब तक 17265 कोरोना संक्रमित मामले सामने आ चुके हैं। इनमें से 14175 एक्टिव केसेस हैं और 543 लोगों की मौत हो चुकी है। हालांकि, इस दौरान 2302 लोग ठीक होकर घर भी जा चुके हैं। हाल ही में कई ऐसी बातें सामने आईं हैं जिससे यह साबित हो रहा है कि देश में कोरोना वायरस धीरे-धीरे कमजोर पड़ रहा है। आने वाले दिनों में हमारा देश इस महामारी से जंग जरूर जीतेगा।

ये 7 राहत वाली बातें-

  • देश में कुल 736 जिलों में से 411 ऐसे जिले हैं जिसमें रविवार को एक भी कोरोना पॉजिटिव मामला सामने नहीं आया। यानी करीब आधे देश में रविवार को कोरोना का एक भी मामला सामने नहीं आया है।
  • दूसरी राहत वाली बात है कि राजस्थान के भीलवाड़ा में जीरो केस है। एक समय पर यहां सबसे ज्यादा कोरोना वायरस के मरीज पाए गए थे। इससे निपटने के लिए प्रशासन ने बेहद तेजी से काम किया। प्रशासन ने भीलवाड़ा की सभी सीमाओं को सील कर दिया और लॉकडाउन का सख्ती से पालन करवाया। एक-एक व्यक्ति की टेस्टिंग की गई. नतीजन भीलवाड़ा पूरी तरह से कोरोना से मुक्त हो चुका है।
  • भीलवाड़ा के अलावा गोवा भी कोरोना मुक्त हो चुका है। बता दें गोवा में कोरोना के कुल 7 मामले सामने आए थे। इनमें से 6 मरीज पहले ही ठीक हो चुके थे। रविवार को गोवा में कोरोना के आखिरी मरीज को भी अस्पताल से छुट्टी मिल गई है।
  • लॉकडाउन से पहले कोरोना के मरीज तीन दिन में दोगुने हो रहे थे। अब केस दोगुने होने में औसतन 6.2 दिन लग रहे हैं। 19 राज्यों में तो यह इससे भी ज्यादा है। इन राज्यों में केरल, असम, तमिलनाडु, पंजाब, यूपी, हरियाणा, लद्दाख, दिल्ली, चंडीगढ़ आदि शामिल हैं।
  • इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिचर्स (ICMR) की कोरोना मरीज टेस्टिंग की क्षमता लगातार बढ़ती जा रही है। कुछ दिन पहले केंद्र सरकार ने अपने प्लान बताते हुए कहा था कि, देश में 80 हजार कोरोना टेस्टिंग प्रतिदिन होना चाहिए. फिलहाल यह बढ़कर 37 हजार प्रतिदिन हो गई है।
  • केरल में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की रिकवरी दर 56.3 फीसदी के आंकड़े के साथ देश के तमाम राज्यों की तुलना में सबसे बेहतर है।
  • उत्तर प्रदेश के कई जिलों में भी कोरोना का असर कम हो रहा है। पीलीभीत, महाराजगंज और हाथरस कोरोना मुक्त जिले हैं। वहां के सभी मरीज पूरी तरह से ठीक होकर घर लौट चुके हैं।

Related posts