केंद्र सरकार का बड़ा ऐलान, 50 करोड़ लोगों की मुफ्त में होगी कोरोना वायरस जांच और इलाज

चैतन्य भारत न्यूज

नई दिल्ली. कोरोना वायरस जैसी महामारी को हराने के लिए सरकार रोजाना नए-नए कदम उठा रही है। इसी बीच केंद्र सरकार ने घोषणा की है कि कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की जांच और उनका ईलाज आयुष्मान भारत – प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (AB-PM JAY) के तहत किया जाएगा।

50 करोड़ लोगों को होगा लाभ

बता दें पहले से ही सभी सरकारी अस्पतालों में कोविड-19 की जांच और उसका इलाज मुफ्त में किया जा रहा है। लेकिन अब इस सरकारी योजना के तहत आने वाले 50 करोड़ से ज्यादा लोग प्राइवेट लैब्स में भी कोविड-19 की फ्री टेस्टिंग करा सकेंगे। साथ ही इस योजना के अंतर्गत आने वाले अस्पतालों में कोविड-19 की टेस्टिंग और ट्रीटमेंट बिल्कुल मुफ्त होगी।

प्राइवेट लैब्स को करना होगा ICMR प्रोटोकॉल को फॉलो

बता दें आयुष्मान भारत – प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत सूचिबद्ध अस्पताल अपने स्तर पर टेस्टिंग सुविधा का लाभ दे सकते हैं। साथ ही उनके पास किसी अधिकृत टेस्टिंग सुविधा की मदद लेने का भी विकल्प होगा। कोरोना वायरस की टेस्टिंग इंडियन काउंसिल फॉर मेडिकल रिसर्च (ICMR) के तहत ही होगी। सभी प्राइवेट लैब्स को ICMR के प्रोटोकॉल को फॉलो करना जरुरी होगा।

किन प्राइवेट लैब्स में की जा सकेगी टेस्टिंग?

यह टेस्ट सिर्फ उन्हीं प्राइवेट लैब्स में किया जाएगा जिनके पास RNA वायरस के PCR जांच के लिए NABL की मान्यता है। इसके अलावा लैब टेस्टिंग तब ही की जाएगी जब कोई क्वालिफाईड डॉक्टर ने COVID-19 टेस्टिंग की सलाह दी होगी।

ये भी पढ़े…

शख्स ने नोटों से नाक साफ करते हुए बनाया टिकटॉक वीडियो, कोरोना को बताया अल्लाह की सजा, हुआ गिरफ्तार

धीरे-धीरे और ताकतवर होता जा रहा है कोरोनावायरस, फेफड़ों के साथ दिमाग पर भी कर रहा हमला- रिपोर्ट

Coronavirus : देशभर में कोरोनावायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या 2900 के पार पहुंची, अब तक 68 की मौत

Related posts