चक्रवाती तूफान ‘महा’ और ‘बुलबुल’ ने देश को दो तरफ से घेरा, चिंता में लोग

cyclone

चैतन्य भारत न्यूज

गांधीनगर/कलकत्ता. भारत तीन तरफ से समुद्र से घिरा हुआ है। इनमें से दो तरफ इस समय दो भयानक चक्रवाती तूफान उठ रहे हैं। पहला तूफान अरब सागर में उठ रहा है जिसका नाम है ‘महा’ और दूसरा बंगाल की खाड़ी में जिसका नाम है ‘बुलबुल’। दोनों ही तूफान भयावह रूप लेते हुए नजर आ रहे हैं। यदि यह तूफान विकराल रूप ले लेते हैं तो महाराष्ट्र, गुजरात, पश्चिम बंगाल और ओडिशा पर इसका सीधा असर पड़ने वाला है। साथ ही इन राज्यों से सटे हुए राज्यों में भी इसका असर देखने को मिल सकता है। आइए जानते हैं इस समय ‘महा’ और ‘बुलबुल’ तूफान की क्या स्थिति है?


अगले 24 घंटों में गुजरात पहुंच जाएगा ‘महा’ तूफान

मौसम विभाग ने बताया कि ‘महा’ तूफान को अत्यधिक गंभीर तूफान की श्रेणी में रखा गया है। यह तूफान लगातार 21 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से आगे बढ़ रहा है। फिलहाल यह गुजरात के पोरबंदर से 480 किमी दूर है और गुजरात के वेरावल और दीव से 570 किलोमीटर दूर है। कयास लगाए जा रहे हैं कि अगले 24 घंटे में यह तूफान गुजरात के तटीय इलाकों और दीव से टकरा सकता है। तूफान की गति 80 किमी प्रति घंटे होगी और हवा 90 किमी की गति से चलेगी। 6 से 8 नवंबर तक इस तूफान के कारण अरब सागर में तेज लहरें की भी उठने की संभावना है। गुजरात और महाराष्ट्र के सभी मछुआरों को समुद्र के पास न जाने की चेतावनी दे दी गई है। मौसम विभाग के मुताबिक, तूफान 8 नवंबर तक कमजोर पड़ जाएगा। बता दें जून में ही गुजरात में चक्रवाती तूफान ‘वायु’ आया था।

किस दिन तूफान ‘महा’ की गति क्या रहेगी

  • 6 नवंबरः 100 से 110 किमी/घंटा
  • 7 नवंबरः 70 से 90 किमी/घंटा
  • 8 नवंबरः 40 से 60 किमी/घंटा

24 घंटों में चक्रवाती तूफान का रूप ले लेगा ‘बुलबुल’

बंगाल की खाड़ी की ओर तूफान ‘बुलबुल’ आ रहा है। बता दें ‘बुलबुल’ साल 2019 का सातवां चक्रवाती तूफान होगा। तूफान की गति धीरे-धीरे तेज होती जा रही है। 10 नवंबर तक ‘बुलबुल’ अत्यधिक गंभीर चक्रवाती तूफान बन जाएगा। फिलहाल यह पश्चिम बंगाल के सागर द्वीप से 930 किलोमीटर, ओडिशा के पारादीप से 820 किलोमीटर और अंडमान के माया बंदर से 370 किलोमीटर दूर है। बताया जा रहा है कि अगले 12 घंटों में यह और दबाव के क्षेत्र में बदल जाएगा। फिर इसके बाद अगले 24 घंटों में यह चक्रवाती तूफान का रूप ले लेगा। ‘बुलबुल’ की वजह से पश्चिम बंगाल, ओडिशा, अंडमान-निकोबार और उत्तर-पूर्व के राज्यों में तेज बारिश हो सकती है। बता दें मई में ही ओडिशा में चक्रवाती तूफान ‘फैनी’ आया था।

किस दिन तूफान ‘बुलबुल’ की गति क्या रहेगी

  • 6 नवंबरः 45 से 55 किमी/घंटा
  • 7 नवंबरः 70 से 100 किमी/घंटा
  • 8 नवंबरः 110 से 130 किमी/घंटा
  • 9 नवंबरः 125 से 140 किमी/घंटा
  • 10 नवंबरः 130 से 140 किमी/घंटा

ये भी पढ़े…

जापान में सबसे ताकतवर तूफान हगिबीस ने मचाई तबाही, गुलाबी हुआ आसमान, अब तक 8 की मौत, 110 से ज्यादा जख्मी

फैनी के बाद अब वायु तूफान आ रहा है तबाही मचाने, अगले दो दिन इन इलाकों में 100 किमी की रफ्तार से चलेगी हवा

फैनी तूफान के एक महीने बाद भी अंधकार में जी रहे ओडिशा के 5 लाख से ज्यादा लोग

बांग्लादेश ने रखा चक्रवाती तूफान का नाम फैनी, आप भी जानिए कैसे तय होते हैं तूफानों के नाम

 

Related posts