Tauktae के बाद अब तबाही मचाने आ रहा ‘यास’ तूफान, बंगाल की खाड़ी से टकराएगा

cyclone

चैतन्य भारत न्यूज

नई दिल्ली. पश्चिमी तट पर गंभीर चक्रवाती तूफान ‘टाउते’ के आने के बाद एक अन्य चक्रवात ‘यास’ (Yaas) का खतरा मंडराने लगा है। चक्रवात यास बंगाल की खाड़ी बन रहा है और यह पश्चिम बंगाल व ओडिशा के तटीय क्षेत्रों को प्रभावित करेगा। मौसम विभाग ने बताया कि चक्रवात यास 25 मई के आसपास बंगाल की खाड़ी में बनकर तैयार होगा। इसके बाद यह उत्तर-पश्चिम दिशा का रुख करते हुए बंगाल और फिर 26 मई को ओडिशा के तट पर पहुंचेगा।

इस दिन आएगा तूफान

भारत मौसम विज्ञान विभाग ने बुधवार को यह जानकारी दी। विभाग ने बताया कि उत्तर अंडमान सागर और बंगाल की पूर्वी मध्य खाड़ी में 22 मई को कम दबाव का क्षेत्र बनने की संभावना है जो इसके बाद 72 घंटों में चक्रवाती तूफान में तब्दील हो सकता है। विभाग के चक्रवात चेतावनी प्रभाग ने बताया कि यह उत्तर पश्चिम की तरफ बढ़ सकता है और 26 मई की शाम तक पश्चिम बंगाल-ओडिशा के तटों तक पहुंच सकता है।

मछुआरों को जारी की चेतावनी

वहीं अंडमान में 45 से 55 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चल सकती हैं जो बंगाल खाड़ी तक पहुंचने तक 70 किलोमीटर प्रति घंटे की हो सकती हैं। तूफान के खतरे को देखते हुए मछुआरों को भी चेतावनी जारी कर दी गई है। तमाम मछुआरों से समुद्र में ना जाने और किनारे पर रहने के लिए कहा जा रहा है।

अम्फान की तरह हो सकता है यास

IMD के अधिकारी ने कहा कि यास, बीते साल आए तूफान अम्फान की तरह तेज हो सकता है। आईएमडी में चक्रवातों पर नजर रखने वाली सुनीता देवी ने कहा, ‘हम अम्फान जैसी तीव्रता से इनकार नहीं कर सकते। अच्छी बात यह है कि अभी के मॉडल दिखा रहे हैं कि सिस्टम समुद्र के ऊपर बहुत तेजी से आगे बढ़ रहा है। समुद्र के ऊपर इसका समय कम होने पर इसकी तीव्रता प्रतिबंधित हो जाएगी।’

Related posts