450 सिलेंडर भरे ट्रक पर गिरी आकाशीय बिजली, धमाकों से थर्रा उठा इलाका, 1 किमी दूर तक गए सिलेंडर के टुकड़े

चैतन्य भारत न्यूज

भीलवाड़ा. राजस्थान के भीलवाड़ा में एक बड़ा हादसा हो गया है। यहां 450 सिलेंडरों से भरे एक ट्रक पर आसमानी बिजली गिर गई। इसके बाद ट्रक पलट गया और सिलेंडर में धमाके होना शुरू हो गए। गैस सिलेंडरों में विस्फोट इतनी तेज आवाज के साथ हुआ कि आसपास का इलाका थर्रा गया। इससे इलाके में अफरातफरी मच गई और वहां दशहत का माहौल हो गया। हालांकि, फिर भी ट्रक ड्राइवर की जान बच गई।

भीलवाड़ा पुलिस अधीक्षक विकास शर्मा ने बताया कि जयपुर से 400 से अधिक घरेलू गैस सिलेंडर भरकर एक ट्रक राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 52 पर कोटा जा रहा था। इसी दौरान देर रात टिकड़ गांव के समीप एक मोड़ पर ट्रक डिवाइडर से टकराकर दुर्घटनाग्रस्त हो गया। उस समय टिकड़ गांव में बारिश हो रही थी और आकाश से बिजली भी चमक रही थी। इससे ट्रक में आग लग गई। आग से कई सिलेडर फट गए और सड़क पर फैल गए।

आग की लपटें 5 से 7 किमी दूर तक दिखीं

महावीर प्रसाद के मुताबिक, हादसे के बाद आग पर काबू का प्रयास कर लिया गया है। इस हादसे के बाद आग इतनी भीषण थी कि लपटें 5-7 किलोमीटर दूर तक दिखाई दे रही थी। सिलेंडरों में विस्फोट और आग विकराल होने से कोई भी ट्रक के पास जाने की हिम्मत नहीं जुटा पा रहा था। विस्फोट के साथ सिलेंडर उछल-उछलकर करीब एक किलोमीटर दूर तक गिर रहे थे।फिर हनुमान नगर थाना पुलिस व फायर ब्रिगेड पहुंची और आग पर काबू पाया।

घटना स्थल के 150 मीटर दूर भी खड़े रहना हो गया था मुश्किल

देवली नगर पालिका के दमकल में काम करने वाले दिनेश ने बताया कि घटनास्थल से करीब 150 मीटर दूर खड़े रह पाना भी मुश्किल हो रहा था। दमकल भी नजदीक नहीं जा सकती थी। ट्रक ड्राइवर बिजेठा निवासी 35 साल के सतराज मीणा ने किसी तरह भागकर जान बचाई। हालांकि, उसका उसका शरीर कई जगह से झुलस गया।

Related posts