पाकिस्तान से तनाव के बीच रक्षा मंत्री की चेतावनी- ‘परमाणु हमले को लेकर बदल सकते हैं अपनी नीति’

चैतन्य भारत न्यूज

पूर्व प्रधानमंत्री और बीजेपी के दिग्गज नेता अटल बिहारी वाजपेयी की प्रथम पुण्यतिथि पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने पोखरण जाकर उन्हें श्रद्धांजलि दी। इस दौरान उन्होंने पाकिस्तान के साथ बढ़ते तनाव को लेकर संकेत दिए कि भारत परमाणु हथियारों का पहले इस्तेमाल न करने से जुड़ी अपनी नीति को कभी भी बदल सकता है।

रक्षा मंत्री ने कहा कि, ‘परमाणु युद्ध को लेकर अब तक हमारी नीति ‘पहले इस्तेमाल न करने’ की रही है। अब भविष्य में क्या होता है, यह उस वक्त के हालात पर निर्भर करता है।’ इस दौरान उन्होंने अटल बिहारी वाजपेयी के साहसिक फैसले का जिक्र भी किया। बता दें मई 1998 में जब पोखरण में 5 परमाणु परीक्षण किए गए थे तो उस समय वाजपेयी ही प्रधानमंत्री थे। उन्होंने एक ट्वीट भी किया जिसमें लिखा कि, ‘पोखरण वहीं जगह है जो अटल जी के परमाणु शक्ति बनने के दृढ़ संकल्प की गवाह बनी थी। हम अब भी ‘पहले इस्तेमाल नहीं’ के सिद्धांत को लेकर प्रतिबद्ध हैं। इस सिद्धांत का भारत कड़ा पालन करता है। लेकिन भविष्य में क्या होता है ये तो परिस्थितियों पर निर्भर करता है।’

बता दें नो फर्स्ट यूज (NFU) का मतलब है जब तक विरोधी हमपर परमाणु हथियार से हमला न करे तब तक हमें इसका इस्तेमाल नहीं करना है। भारत ने परमाणु हथियार को आगे बढ़कर इस्तेमाल न करने की पालिसी 1998 में पोखरण-2 के बाद अपनाई थी।

यह भी पढ़े… 

अटल बिहारी वाजपेयी की पहली पुण्‍यतिथि पर राष्ट्रपति कोविंद और पीएम मोदी समेत कई नेताओं ने दी श्रद्धांजलि

Related posts