रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने की शस्त्र पूजा, कहा- देश की एक-एक इंच जमीन की रक्षा करेगी सेना

चैतन्य भारत न्यूज

चीन से तनातनी के बीच जवानों का मनोबल बढ़ाने के लिए केंद्रीय रक्षामंत्री राजनाथ सिंह भारतीय सेना के साथ दशहरा मना रहे हैं। विजयादशमी के मौके पर रक्षा मंत्री ने रविवार सुबह पश्चिम बंगाल के दार्जिलिंग के सुकना में युद्ध स्मारक में शस्त्र पूजा की। इस दौरान उन्होंने कहा कि, ‘भारत चाहता है कि चीन और भारत के बीच बॉर्डर पर शांति होनी चाहिए और तनाव खत्म होना चाहिए, लेकिन मैं पूरी तरह से आश्वस्त हूं कि हमारी सेना किसी को भी देश की एक इंच जमीन पर भी कब्जा नहीं करने देगी।’

रक्षामंत्री ने ट्वीट कर दी जानकारी

केंद्रीय रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने अपने ट्वीट में कहा, ‘सभी देशवासियों को विजयदशमी पर्व की हार्दिक शुभकामनाएं। आज के इस पावन अवसर पर मैं सिक्किम के नाथूला क्षेत्र में जाकर भारतीय सेना के जवानों से भेंट करूंगा और शस्त्र पूजन समारोह में भी मौजूद रहूंगा।’


बता दें राजनाथ सिंह दार्जिलिंग और सिक्किम के दौरे पर हैं। इस दौरान थलसेना अध्यक्ष एमएम नरवणे भी मौजूद थे। विजयादशमी के दिन शस्त्र पूजा करने की परंपरा है इसलिए वे यहां पहुंचे। मंत्रोच्चारण के बीच शस्त्र पूजा के बाद राजनाथ सिंह ने कहा कि, ‘इस समय भारत और चीन पर तनाव चल रहा है। भारत चाहता है कि तनाव समाप्त हो, शांति स्थापित हो, हमारा उद्देश्य यही है। लेकिन कभी कभी कुछ ऐसी नापाक हरकतें होती रहती है, लेकिन मैं पूरी तरह से आश्वस्त हूं और मुझे पूरा भरोसा है कि हमारे सेना के जवान किसी भी सूरत में भारत की एक इंच जमीन किसी दूसरे के हाथों में नहीं जाने देंगे।’


रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने गलवान में चीन के विश्वासघात का जिक्र करते हुए कहा कि, ‘हाल-फिलहाल में भारत चीन के बॉर्डर पर जो हुआ है उसके बारे में निश्चित जानकारी के आधार पर मैं कह सकता हूं कि हमारे देश के जवानों ने जिस प्रकार की भूमिका का निर्वाह किया है आगे जब इतिहास लिखा जाएगा तो उनके शौर्य और बहादुरी की चर्चा स्वर्णाक्षरों में की जाएगी।’

Related posts