पिता को ‘आतंकवादी’ कहने पर भाजपा पर भड़की अरविंद केजरीवाल की बेटी, बोलीं- ये गंदी राजनीति का नया स्तर

harshita kejriwal

चैतन्य भारत न्यूज

नई दिल्ली. राजधानी दिल्ली में मतदान की तारीख नजदीक आ गई है। ऐसे में सभी पार्टियों का एक-दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप का दौर भी शुरू हो गया है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को कुछ दिन पहले आतंकी बताया गया था। इसके खिलाफ अब उनकी बेटी हर्षिता सामने आईं हैं। हर्षिता ने विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा कि, ‘वे कहते हैं कि राजनीति गंदी है, लेकिन यह एक नया स्तर है।’



उन्होंने बीजेपी नेताओं को आड़े हाथों लेते हुए सवाल किया कि, ‘क्या लोगों को मुफ्त स्वास्थ्य सुविधा देने वाला आतंकवादी हो सकता है? क्या बच्चों को शिक्षित करने वाला आतंकवादी हो सकता है? क्या बिजली और पानी की आपूर्ति में सुधार करने वाला आतंकवादी हो सकता है?’


हर्षिता केजरीवाल ने आगे कहा कि, ‘मुझे अभी भी याद है कि हर रोज जब हम जगाते थे तो मेरा भाई, माता, दादा-दादी और मैं, सुबह 6 बजे भगवद् गीता पढ़ते हैं और ‘इंसान से इंसान का हो भाईचारा’ गीत गाते हैं। हमें इसके बारे में पढ़ाया भी जाता है। क्या यह आतंकवाद है?’

हर्षिता ने कहा कि, ‘उनकी (बीजेपी) ओर से आरोप लगाने दो। उन्हें 200 सांसद और 11 मुख्यमंत्री लाने दो। केवल हम ही नहीं, बल्कि 2 करोड़ आम लोग भी चुनाव प्रचार कर रहे हैं। दिल्ली की जनता 11 फरवरी को फैसला करेगी कि क्या वह आरोपों पर वोट करते हैं या फिर काम पर।’

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री केजरीवाल पर बीजेपी के नेताओं ने निशाना साधते हुए उन्हें आतंकी करार दिया था। केंद्रीय मंत्री व दिल्ली विधानसभा चुनाव में भाजपा के चुनाव प्रभारी प्रकाश जावड़ेकर ने बीते सोमवार को कहा था कि, ‘अरविंद केजरीवाल एक आतंकी हैं।’ उन्होंने यह भी कहा था कि, ‘केजरीवाल मासूम चेहरा बना रहे हैं और लोगों से पूछ रहे हैं कि क्या वे आतंकवादी हैं? लेकिन आप (केजरीवाल) आतंकवादी हो और इसके बहुत सारे सबूत हैं।’

जावड़ेकर ने आगे कहा था कि, ‘आप (केजरीवाल) ने खुद कहा है कि आप अराजकतावादी हो। आतंकवादी और अराजकतावादी में ज्यादा अंतर नहीं होता।’ इसके बाद केजरीवाल ने चांदनी चौक में हुई एक जनसभा में जनता को याद दिलाया था कि भाजपा ने उन्हें ‘आतंकवादी’ कहा है।

8 फरवरी को वोटिंग, 11 को नतीजे

बता दें दिल्ली में 8 फरवरी को विधानसभा चुनाव के लिए वोट डाले जाएंगे और इसके नतीजे 11 फरवरी को आएंगे। दिल्ली विधानसभा की 70 सीटों पर चुनाव होने हैं। इनमें से 58 सामान्य श्रेणी की सीटें हैं जबकि 12 सीटें अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित हैं।

ये भी पढ़े…

दिल्ली चुनाव : केजरीवाल ने जारी किया घोषणा पत्र, जानें क्या-क्या है दिल्ली के लिए AAP के वादे

दिल्ली चुनाव: केजरीवाल के खिलाफ मैदान में उतरे कांग्रेस और भाजपा के ये नेता

आम आदमी पार्टी ने जारी की उम्मीदवारों की लिस्ट, 20 जनवरी को नामांकन पर्चा भरेंगे केजरीवाल

 

Related posts