शाहीन बाग पर SC ने कहा- प्रदर्शनकारी इस तरह नहीं घेर सकते सड़क

caa protest, new delhi,

चैतन्य भारत न्यूज

नई दिल्ली. राजधानी दिल्ली के शाहीन बाग में करीब दो महीनों से नागरिकता कानून (CAA) और नेशनल रजिस्टर फॉर सिटीजन (NRC) के विरोध में प्रदर्शन हो रहा है। धरना प्रदर्शन की वजह से यातायात बाधित हो रहा है। शाहीन बाग इलाके में सड़कें बंद हैं। वहां पुलिस का कड़ा पहरा है।



इस मामले पर सोमवार को सुप्रीम कोर्ट ने कड़ी आपत्ति जताई है। कोर्ट ने कहा कि सार्वजनिक रास्तों को कोई कैसे बंद कर सकता है। अगर आप प्रदर्शन करना चाहते हैं तो प्रदर्शन के लिए निर्धारित स्थान होना चाहिए।’ सुप्रीम कोर्ट में अब इस मामले की अगली सुनवाई 17 फरवरी को होगी। अदालत ने कहा है कि अगर इतने दिनों इंतजार किया है तो एक हफ्ता और भी कर सकते हैं।

जस्टिस संजय किशन कौल, जस्टिस के. एम. जोसेफ की बेंच ने कहा कि, इस मामले में पुलिस और सरकार को पक्षकार बनाया गया है, ऐसे में उनकी बात सुनना जरूरी है। सर्वोच्च अदालत ने दिल्ली पुलिस और केंद्र सरकार को नोटिस जारी किया है। इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को सुनवाई दिल्ली चुनाव की वजह से टाल दी थी। सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि दिल्ली में शनिवार को मतदान को प्रभावित नहीं करना चाहता।

बता दें, नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में करीब दो महीने से शाहीन बाग में प्रदर्शन चल रहा है। मोदी सरकार ने पिछले साल 12 दिसंबर CAA पास कराया था। प्रदर्शनकारियों का कहना है कि जब तक सरकार सीएए और एनआरसी को खत्म करने का फैसला नहीं करती है, तब तक वे अपना प्रदर्शन जारी रखेंगे।

ये भी पढ़े…

अनोखी शादी: दूल्हे के हाथों में लगी CAA की मेहंदी, बारात में शामिल हुई गाय

लोकसभा में गृह मंत्रालय का जवाब- देशभर में अभी नहीं लागू होगा NRC

उद्धव ठाकरे का बड़ा बयान, कहा- महाराष्ट्र में लागू नहीं होगा एनआरसी

Related posts