किसान आंदोलन : धरने पर बैठे एक किसान की मौत, परिजनों ने कहा- ठंड के कारण रुकी सांसे

sindhu border

चैतन्य भारत न्यूज

नई दिल्ली. कृषि कानूनों के खिलाफ चल रहा आंदोलन बढ़ते सर्द मौसम में भी जारी है। सोनीपत के सिंधु बॉर्डर पर चल रहे किसान आंदोलन में एक किसान की मौत हो गई है। टीडीआई सिटी के सामने किसान की मौत हुई है। मौके पर पहुंची पुलिस ने किसान के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा है।

जानकारी के मुताबिक, मृतक किसान का नाम अजय है और उसकी उम्र 32 साल है। वह सोनीपत के बरोदा का रहने वाला है। अजय एक एकड़ जमीन का किसान था और जमीन ठेके पर लेकर खेती का काम करता था। किसान आंदोलन में वह भी हिस्सा ले रहा था। पुलिस के अनुसार प्रारंभिक जांच में मौत का कारण ठंड व हार्ट अटैक बताया जा रहा है हालांकि मौत के सही कारणों का पता पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही पता लगेगा।

गौरतलब है कि पिछले कई दिनों से किसान आंदोलन जमकर चल रहा है और इसके समर्थन में कई लोग आगे आ रहे हैं। बॉलीवुड से लेकर खेल जगत और राजनीति की बड़ी बड़ी हस्तियां किसान के समर्थन में है। गायक एवं अभिनेता दिलजीत दोसांझ ने शनिवार को सिंधु बॉर्डर पहुंच कर नये कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसानों को अपना समर्थन दिया। दोसांझ ने धरना स्थल पर पहुंच कर आंदोलनरत किसानों को संबोधित करते हुए कहा कि, ‘‘केंद्र सरकार से हमारा सिर्फ यह निवेदन है कि वह किसानों की मांग पूरी करे। हर कोई यहां शांतिपूर्ण ढंग से बैठा है और पूरा देश किसानों के साथ है।’’

ये भी पढ़े…

किसानों के समर्थन में उतरीं प्रियंका चोपड़ा, कहा- वह अन्न के सिपाही हैं, उनके डर को दूर करने की जरूरत है

कंगना को किसानों के खिलाफ ट्वीट करना पड़ा भारी, मिला कानूनी नोटिस

किसानों का ऐलान, 8 दिसंबर को भारत बंद, कांग्रेस समेत कई दलों ने दिया समर्थन

Related posts