निर्भया केस: दोषियों को जल्द से जल्द फांसी देना चाहते हैं पवन जल्लाद, कहा- मेहनताने से करूंगा बेटी की शादी

nirbhaya,nirbhaya case,nirbhaya kand

चैतन्य भारत न्यूज

नई दिल्ली. निर्भया के गुनहगारों को फांसी पर लटकाने के लिए पवन जल्लाद तैयार हैं। उन्होंने इस मामले में कहा कि यह मेरा सौभाग्य है कि देश को हिलाकर रख देने वाले निर्भया कांड के गुनहगारों को मैं फांसी दूंगा। बता दें निर्भया गैंगरेप के दोषियों को 22 जनवरी, सुबह 7 बजे फांसी पर लटकाया जाएगा। दिल्ली की पटियाला हाउस अदालत ने निर्भया के कातिलों को एक साथ फांसी पर लटकाने का ‘डेथ-वारंट’ (सजा-ए-मौत का फरमान) जारी किया है।



इस पर पवन जल्लाद ने कहा कि, ‘इस वक्त मैं 57 साल का हो चुका हूं। मैंने अपने जीवन में इससे पहले कभी, इतनी बड़ी रकम फांसी के बदले मेहनताने के रूप में मिलती हुई न देखी न सुनी। कहने को भले ही मैं देश में खानदानी जल्लाद क्यों न हूं।’ जेल सूत्रों के मुताबिक, एक फांसी के लिए जल्लाद को 25 हजार रुपए मेहनताने के तौर पर मिलते हैं। इस तरह चार फांसी लगाने का मेहनताना पवन को लगभग एक लाख रुपए मिलेंगे।

पवन का कहना है कि, ‘इस पैसे को बेटी की शादी में खर्च करूंगा। चार बेटियों की शादी का भी कुछ कर्ज भी है, उसको भी उतार दूंगा। पवन जल्लाद ने आगे कहा कि, ‘अब तो साहब बस 22 जनवरी 2020 का इंतजार है, ताकि मैं तिहाड़ जेल जाकर उन चारों को लटका कर अपना एक लाख मेहनताना तिहाड़ जेल के अफसरों से ले सकूं।’

पवन जल्लाद परिवार का इकलौता वारिस

देश का जल्लाद परिवार उत्तर प्रदेश के मेरठ में रहता है, जिनका पुश्तैनी काम ही फांसी देना है। परदादा से लेकर पोते तक ने इस पेशे को कायम रखा है। इस परिवार को कल्लू जल्लाद के परिवार के नाम से भी जाना जाता है। लेकिन पवन जल्लाद आज इस खानदान की विरासत को बड़ी शिद्दत के साथ संभाल रहा है। पवन ही वर्तमान समय में इस परिवार का इकलौता और जीवित वारिस है।

ये भी पढ़े…

निर्भया कांड के दरिंदों को फांसी पर लटकाएगा मेरठ का पवन जल्लाद, योगी सरकार ने दी इजाजत

पीढ़ियों से लोगों को फांसी दे रहा है यह जल्लाद परिवार, भगत सिंह-कसाब को भी फंदे पर लटका चुका है, अब निर्भया के दोषियों की बारी

डेथ वारंट जारी होते ही दोषियों के चेहरे पर छाया मौत का खौफ, खाना-पीना भी छोड़ा

Related posts