जेल में रहकर भी कमाई कर रहा है राम रहीम, 15 किलो वजन हुआ कम

baba ram rahim

चैतन्य भारत न्यूज

रोहतक (हरियाणा). भक्तों के बीच भगवान की तरह पूजा जाने वाले गुरमीत सिंह यानी बाबा राम रहीम को अब जेल की जिंदगी से तालमेल बैठाना आ गया है। कैदी नंबर 8647 यानी गुरमीत सिंह को अब सुनारिया जेल की 12 गुणा 8 फीट की बैरक रास आने लगी है। जेल में बंद होने के बाद से जहां गुरमीत ने 15 किलो वजन कम कर लिया है, वहीं सब्जियां उगाकर 18 हजार रुपए से ज्यादा की कमाई कर ली है। यह अलग बात है कि कभी यह रकम उसके लिए खुल्ले पैसों यानी रेजगारी जैसी थी।

राजाओं जैसा जीवन जीने के शौकीन गुरमीत सिंह में अब काफी बदलाव आ गए हैं। दाढ़ी के बाल आधे से ज्यादा सफेद हो गए हैं। पंचकूला की विशेष  सीबीआई कोर्ट ने 25 अगस्त 2017 को साध्वियों के दुष्कर्म मामले में डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत को दोषी करार दिया था। फैसला 28 अगस्त को सुनारिया जेल में ही अदालत लगाकर सुनाया था। साध्वियों से दुष्कर्म मामले में 10-10 साल और पत्रकार छत्रपति हत्याकांड में उम्रकैद की सजा गुरमीत को कोर्ट सुना चुकी है। गुरमीत दो बार पैरोल की अर्जी लगा चुका है। एक बार खेती-बाड़ी और एक बार बीमार मां के इलाज का हवाला दिया गया था। बीमार मां के इलाज की अर्जी को जेल प्रशासन ने जिला प्रशासन की रिपोर्ट के आधार पर खारिज कर दिया था।

डेरा सच्चा सौदा में गुरमीत सिंह डायबिटिज का मरीज हुआ करता था और और खान-पान में काफी परहेज करता था लेकिन जब से जेल में बंद हुआ है, उसका स्वास्थ्य ठीक चल रहा है। करीब 15 किलो वजन कम हो चुका है। जब जेल में बंद हुआ, तब वजन 105 किलो था।

जेल में हर दिन 40 रुपए के हिसाब से मजदूरी

गुरमीत को जेल में खेती-बाड़ी का काम मिला है। वह दो साल में करीब एक दर्जन किस्म की सब्जियां उगा चुका है। गुरमीत को इसके बदले 40 रुपए  प्रतिदिन मेहनताना दिया जाता है। गुरमीत ने इन दो सालों में करीब 18 हजार रुपए कमा लिए हैं।

ये भी पढ़े… 

राम रहीम ने खेती के लिए मांगी पैरोल, जबकि खुद के नाम पर नहीं है भूमि, पैरोल मिलना मुश्किल

एक और बाबा की शर्मनाक हरकतें आई सामने, अश्लील वीडियो वायरल होते ही बाबा ज्योति गिरी फरार 

Related posts