सरकार के फैसले को हाईकोर्ट में चुनौती देंगे पूर्व डीजी पुरुषोत्तम शर्मा, बोले- वर्षों से झेल रहा हूं पत्नी की प्रताड़ना

चैतन्य भारत न्यूज

भोपाल. पत्नी को बेहरमी से पीटने का वीडियो वायरल होने के बाद मध्य प्रदेश में स्पेशल डीजी के पद से हटाए गए पुरुषोत्तम शर्मा को अब सस्पेंड कर दिया गया है। उन्होंने अपने खिलाफ हुई इस बड़ी कार्रवाई को चुनौती देने के लिए हाईकोर्ट जाने की बात कही है।

शर्मा ने कहा- मैं सालों से पत्नी की प्रताड़ना को झेल रहा

बता दें पुरुषोत्तम शर्मा द्वारा कारण बताओ नोटिस का जवाब मिलने के बाद ही राज्य सरकार ने उनके खिलाफ यह कार्रवाई की। पुरुषोत्तम शर्मा ने गृह विभाग को भेजे अपने जवाब में बताया कि यह मामला उनको प्रताड़ित करने वाला है। यह मामला घरेलू हिंसा का नहीं है और न ही महिला को प्रताड़ित करने का है। उनका कहना है कि, ‘यह महिला प्रताड़ना नही बल्कि पुरुष प्रताड़ना का केस है। वीडियो को पूरे प्लानिंग के तहत बनाया गया है। मैंने किसी तरीके की मारपीट नहीं की झूमा-झटकी हुई है। मैं सालों से अपनी पत्नी की प्रताड़ना को झेल रहा हूं। परिवार न टूटे इसलिए कोई बड़ा कदम नहीं उठाया।’ पुरुषोत्तम शर्मा ने लोक अभियोजन के पद से हटाए जाने के फैसले को तो स्वीकार कर लिया, लेकिन उनके खिलाफ निलंबन की कार्रवाई से अब वह नाराज हैं और हाईकोर्ट जाने की बात कर रहे हैं।

पहली बार सीनियर आईपीएस को किया सस्पेंड

गौरतलब है कि मध्यप्रदेश के इतिहास में ऐसा पहली बार है जब किसी इतने सीनियर आईपीएस अफसर पर सस्पेंड किया गया है। गृह विभाग ने आदेश जारी करते हुए स्पेशल डीजी पुरुषोत्तम शर्मा को सस्पेंड कर दिया है। गृह विभाग के आदेश में लिखा है कि, पुरुषोत्तम शर्मा को 27 सितंबर को सोशल मीडिया में वायरल वीडियो के संबंध में 28 सितंबर को स्पष्टीकरण नोटिस जारी किया गया था। उनका जवाब असंतोषजनक पाया गया है। ऐसे में उन्हें तत्काल प्रभाव से निलंबित किया गया है। निलंबन काल में पुरुषोत्तम शर्मा पुलिस मुख्यालय में रहेंगे।

Related posts