मप्र: दिग्विजय सिंह और ज्योतिरादित्य सिंधिया में ट्वीट वार, जानवरों के बहाने एक-दूसरे पर साधा निशाना

चैतन्य भारत न्यूज

भोपाल. मध्यप्रदेश की हालिया राजनीति में पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह और पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया की अदावत किसी से छुपी हुई नहीं है। गुरुवार को हुए मंत्रिमंडल विस्तार के बाद से दोनों के बीच बयानबाजी का दौर शुरू हो गया है। ट्वीट में जानवरों के बहाने एक-दूसरे पर निशाना साधा जा रहा है। टाइगर से शुरू हुई बात चील तक पहुंच चुकी है।


गौरतलब है कि मध्यप्रदेश में 2018 में कांग्रेस की सरकार बनने के बाद लगातार उपेक्षा से परेशान ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अपने 22 समर्थकों के साथ कांग्रेस छोड़कर यह सरकार गिरा दी। यही नहीं वे भाजपा में आ गए और मप्र में भाजपा की सरकार बन गई। गुरुवार को मंत्रिमंडल विस्तार के बाद मीडिया से चर्चा में ज्योतिरादित्य सिंधिया ने प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमल नाथ और पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह को चेतावनी देने के साथ ही तंज का कि ‘टाइगर अभी जिंदा है’। भाजपा उपचुनाव में सभी 24 सीट जीतकर कांग्रेस को मुंहतोड़ जवाब देगी।

शुक्रवार सुबह खुद को टाइगर बताने संबंधी सिंधिया के बयान पर सियासत गर्म हो गई है। दिग्विजय सिंह ने ट्वीट कर कहा कि, ‘जब शिकार प्रतिबंधित नहीं था तब, मैं और श्रीमंत माधवराव सिंधिया (ज्योतिरादित्य के पिता) शेर का शिकार करते थे। प्रतिबंध लगने के बाद से मैं अब सिर्फ शेर कैमरे में उतारता हूं।’

इस पर पलटवार करते हुए सिंधिया ने ट्वीट किया कि, ‘आज पास में बहुत चील बैठे हैं मुझे नोचने के लिए। नोचा भी उसे जाता है जिसमें कुछ अच्छा होता है।’

उधर, दिग्विजय सिंह के भाई और कांग्रेस विधायक लक्ष्मण सिंह ने भी सिंधिया पर तंज कसते हुए कहा कि, ‘सिंधियाजी क्रिकेट के अच्छे खिलाड़ी रहे हैं। एक चुनी हुई सरकार गिराकर अर्धशतक लगा चुके हैं। दूसरी गिराकर, संभवतः शतक पूरा करने की तैयारी में हैं। ईश्वर उन्हें सफलता प्रदान करें।’

Related posts