भारत के इन शहरों में बड़े ही अनोखे अंदाज में मनाई जाती है दिवाली, जानिए यहां की परंपरा और विशेषता

diwali ,diwali 2019,diwali celebration

चैतन्य भारत न्यूज

दीपों का त्योहार दिवाली वैसे तो पूरे भारत में बड़ी ही धूम-धाम से मनाई जाती है, लेकिन सभी जगहों पर यह त्योहार मनाने का तरीका अलग-अलग होता है। आज हम आपको बताने जा रहे हैं भारत के कुछ शहरों के बारे में जहां दिवाली बहुत ही  अलग तरीकों से मनाई जाती है।



वाराणसी

diwali ,diwali 2019,diwali celebration

देवताओं की भूमि कहें जाने वाले वाराणसी शहर में बहुत ही खास तरीके से दिवाली मनाई जाती है। यहां पर दिवाली मुख्य रूप से गंगा नदी के किनारे मनाई जाती है। गंगा नदी के घाट को लाखों दीयों से सजाया जाता है। दरअसल यहां मान्यता प्रचलित है कि इस दिन सभी देवी-देवता गंगा नदी में स्नान करने आते है। उन्हीं के सम्मान में पूरे गंगा घाट को लाखों दीयों से प्रज्वलित किया जाता है।

गोवा

diwali ,diwali 2019,diwali celebration

यहां की दिवाली बेहद अनोखी मानी जाती है। गोवा में दिवाली के दिन नरकासुर का पुतला बनाया जाता है। मान्यता है कि इसी दिन भगवान श्रीकृष्ण ने नरकासुर नाम के राक्षस का वध किया था। इसी कारण से यहां नरकासुर का पुतला बनाने की प्रतियोगिता आयोजित की जाती है। इसके अलावा दिवाली पर गोवा के प्रसिद्ध कसिनों में खास जुएं का आयोजन भी किया जाता है।

अमृतसर

diwali ,diwali 2019,diwali celebration

अमृतसर का स्वर्ण मंदिर पूरे विश्व में प्रसिद्ध है, उसी तरह यहां की दिवाली भी विश्व प्रसिद्ध है। यहां दिवाली पर स्वर्ण मंदिर को लाखों दीयों और रंग-बिरंगी लाइट से सजाया जाता है। दरअसल सिखों के लिए दिवाली एक खास महत्व रखती है क्योंकि सिख धर्म में मान्यता है कि इसी दिन इनके छठें गुरु श्री हरगोबिंदजी जेल से रिहा होकर आए थे। इसलिए अमृतसर में दिवाली बहुत ही अनोखे अंदाज में मनाई जाती है।

जयपुर और उदयपुर

diwali ,diwali 2019,diwali celebration

दिवाली मनाने के लिए जयपुर और उदयपुर को भी बहुत खास माना जाता है। दिवाली के दिन जयपुर के प्रसिद्ध किलों को और उदयपुर की प्रसिद्ध झीलों को रोशनी से सजाया जाता है। दिवाली की सजावट के बाद यहां के नजारों में चार चांद लग जाते हैं।

कोलकाता

diwali ,diwali 2019,diwali celebration

कोलकाता में दिवाली का त्योहार बहुत उत्साह व उमंग से मनाया जाता है। खास बात यह है कि दिवाली के दिन यहां पर देवी लक्ष्मी की नहीं बल्कि देवी दुर्गा की पूजा की जाती हैं और यही बात कोलकाता की दिवाली को खास बनाती है। यहां पर दिवाली तीन दिनों का त्योहार होता हैं। इस दौरान सभी घरों में खास तरीके से रंगोली बनाई जाती है।

यह भी पढ़े…

त्योहारों से भरा है अक्टूबर का महीना, जानें किस दिन है दशहरा-दिवाली समेत कई महत्वपूर्ण तीज-त्योहार

Related posts