रोजाना चाय पीने से होता है दिमाग तेज, चाय का सेवन न करने वालों को होते हैं ये नुकसान

chai

चैतन्य भारत न्यूज

‘चाय पीना सेहत के लिए ठीक नहीं। चीय पीने से गैस की समस्या होती है। चाय पीने से चेहरे का रंग काला होता है…’ ऐसी तमाम बातें घर के बड़े-बुजुर्गों से आपने जरूर सुनी होगी। लेकिन जब आप रोज सुबह उठकर या ऑफिस में काम करते समय चाय पीते हैं तो शरीर में ताजगी आ जाती है और काम करने में आलस भी नहीं आता है। हाल ही में एक अध्ययन ने यह भी दावा किया है कि चाय का सेवन करने से दिमाग बेहतर तरीके से काम करता है।

जी हां…  नियमित रूप से चाय पीने वाले लोगों के दिमाग का प्रत्येक हिस्सा चाय न पीने वालों की तुलना में बेहतर ढंग से संगठित होता है। इन परिणामों तक पहुंचने के लिए इस अध्ययन में 36 उम्रदराज लोगों के न्यूरोइमेजिंग डेटा को खंगाला गया। नेशनल यूनिवर्सिटी ऑफ सिंगापुर में असिस्टेंट प्रोफेसर फेंग ली ने कहा कि, ‘हमारे अध्ययन से यह नतीजा निकला है कि चाय पीने का हमारे मस्तिष्क पर सकारात्मक प्रभाव पड़ता है। नियमित रूप से चाय पीना दिमागी तंत्र में उम्र के कारण आने वाली गिरावट से भी बचाता है।’


शोधकर्ताओं ने यह निष्कर्ष 60 साल की उम्र के 36 लोगों की सेहत, जीवनशैली और उनके मानसिक स्वास्थ्य के आंकड़ों के विश्लेषण के आधार पर निकाला है। हालांकि, कुछ पूर्व अध्ययनों में भी शोधकर्ता यह साबित कर चुके हैं कि, चाय लोगों की सेहत के लिए फायदेमंद है। साथ ही हमारे मूड पर भी इसका सकारात्मक प्रभाव पड़ता है। चाय पीने से हृदय रोग से रोकथाम भी होती है।

बता दें चाय की पत्तियों में पाए जाने वाले एंटी ऑक्सीडेंट और फाइटोकेमिकल्स व्यक्ति के प्रतिरोधी तंत्र को मजबूत करता है। अगर इसमें अदरक भी हो तो फिर यह बेहतरीन स्वाद देने के साथ-साथ सर्दी-जुकाम और खांसी से भी बचाव करती है।

ये भी पढ़े…

बारिश में भीगने से नहीं बल्कि वायरस के हमले से बिगड़ती है सेहत

सैनिटाइजर के भरोसे रहकर आप कर रहे हैं अपनी सेहत के साथ खिलवाड़!

बारिश के मौसम में सर्दी-जुकाम दूर करने के लिए तुरंत अपनाएं यह घरेलु नुस्खा

Related posts