पीएम मोदी का कांग्रेस पर हमला: कांग्रेस हर जगह खत्म हो रही, लेकिन उसे खुद से ज्यादा भाजपा की चिंता

narendra modi rahul gandhi

चैतन्य भारत न्यूज

नई दिल्ली. संसद के मानसून सत्र का पहला दिन सोमवार (19 जुलाई) को शुरू हुआ। पहला दिन काफी हंगामेदार रहा। 13 अगस्त तक चलने वाले मानसून सत्र के दूसरे दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भाजपा के संसदीय दल को संबोधित किया। इस दौरान पीएम मोदी ने कांग्रेस को आड़े हाथों लेते हुए अपने सभी नेताओं से कहा कि वे कोरोना की तीसरी लहर की आशंका के बीच जमीनी स्तर पर ज्यादा से ज्यादा काम करें।

मीटिंग में प्रधानमंत्री मोदी ने पार्टी नेताओं से कहा, ‘सत्य को बार-बार जनता तक पहुंचाइए, सरकार के काम के बारे में बताइए। कांग्रेस सब जगह खत्म हो रही है, लेकिन उन्हें अपने बजाय हमारी चिंता ज्यादा है। मीटिंग में पीएम मोदी ने कहा, ‘कोरोना हमारे लिए राजनीति नहीं, मानवता का विषय है, पहले महामारी के दौरान महामारी से कम और भूख से ज्यादा लोग मरते थे। हमने ऐसा नहीं होने दिया। भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने पार्टी नेताओं से कहा, ‘वैक्सीनशन सेंटर पर जाएं, पीएम के मन की बात बूथ पर जाकर लोगों को सुनाएं। गरीब कल्याण योजना की जानकारी सभी तक पहुंचाएं। नड्डा ने सांसदों को गुरु पूर्णिमा के दिन धर्मगुरुओं के पास जाने के लिए भी कहा।

‘आरोपों की राजनीति करती है कांग्रेस’

प्रधानमंत्री मोदी ने संसद में विपक्षी दलों द्वारा हंगामा करने और कार्यवाही में बाधा पहुंचाने पर चिंता जताई और कहा कि ऐसे समय में जब पूरी मानव जाति कोविड-19 महामारी संकट का सामना कर रही है, विपक्षी दलों का यह रवैया बहुत गैर जिम्मेदाराना है। पीएम ने कहा कि कांग्रेस हर जगह खत्म हो रही है, लेकिन उसको अपनी नहीं बल्कि भाजपा की ज्यादा चिंता है। विपक्ष निराश है, इसलिए चर्चा से भाग रहे हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस आरोपों की राजनीति करती है। कांग्रेस कई राज्यों में खत्म होती जा रही है, इसलिए चर्चा करने के बजाय हंगामा कर रही है। पीएम ने कहा कि असम, केरल और बंगाल हर जगह चुनाव हार गए, फिर भी कांग्रेस की नींद नहीं खुली। उन्हें अपनी नहीं, हमारी चिंता ज्यादा है।

Related posts