चुनाव आयोग ने दिया कमलनाथ के तीन करीबी IPS अफसरों के खिलाफ FIR का आदेश

kamalnath

चैतन्य भारत न्यूज

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के दिग्गज नेता कमलनाथ की मुश्किलें और बढ़ने वाली हैं। साल 2019 के लोकसभा चुनाव से ठीक पहले पड़े आयकर छापों के मामले में तत्कालीन सभी मंत्रियों और अफसरों के खिलाफ एफआईआर दर्ज होगा इस सम्बन्ध में चुनाव आयोग ने मप्र सरकार को निर्देश दिया है।

चुनाव आयोग ने कमलनाथ के करीबी रहे तीन अधिकारियों के खिलाफ शिकायत दर्ज करने को कहा है। चुनाव आयोग ने यह फैसला केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड की ओर से सौंपी गई रिपोर्ट के आधार पर कहा है। चुनाव आयोग ने केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) की रिपोर्ट पर बड़ी कार्रवाई करते हुए मप्र सरकार को निर्देश दिया है कि वह शक के घेरे में आए सभी तत्कालीन मंत्रियों और अफसरों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करे।

सीबीडीटी की रिपोर्ट में तत्कालीन मुख्यमंत्री कमलनाथ के कई करीबियों समेत कांग्रेस के कई तत्कालीन मंत्रियों, मप्र के आईएएस और आईपीएस अफसरों के नाम दिए गए हैं। सूत्रों का कहना है कि पहले एक पूर्व वरिष्ठ आईएएस अफसर, तीन सीनियर आईपीएस और एक राज्य पुलिस सेवा के अधिकारी पर केस दर्ज होगा।

जांच जैसे-जैसे आगे बढ़ेगी, इसके घेरे में बाकी लोग भी आएंगे। सूत्रों की माने तो सीनियर आईपीएस अफसर सुशोभन बैनर्जी, संजय माने, बी. मधुकुमार व राज्य सेवा के अरुण मिश्रा के खिलाफ तत्काल एफआईआर दर्ज होगी। कमलनाथ सरकार के दौरान उनके सलाहकार रहे राजेंद्र मिगलानी, रिश्तेदार रतुल पुरी की कंपनी मोजर बियर के लोगों, ओएसडी रहे प्रवीण कक्कड़, इंदौर के हवाला कारोबारी ललित कुमार छजलानी, कांट्रेक्टर अश्विनी शर्मा, प्रतीक जोशी व हिमांशु शर्मा के यहां छापा पड़ा था। इस दौरान बड़ी मात्रा में लेन-देन के दस्तावेज, 93 करोड़ के ट्रांजेक्शन और चार करोड़ रुपए की बरामदगी हुई थी।

आयोग के सूत्रों के मुताबिक, कमलनाथ के जिन करीबियों के खिलाफ शिकायत दर्ज करने को कहा गया है, उनमें सुषोवन बनर्जी, संजय माने और वी मधु कुमार का नाम शामिल है। चुनाव आयोग की ओर से जारी एक बयान में कहा गया कि सीबीडीटी की रिपोर्ट के मुताबिक, किसी राजनैतिक दल की ओर से कुछ लोगों द्वारा अवैध रूप से धन का नकद लेन-देन किया जा रहा था। हालांकि आयोग ने अपने बयान में किसी पार्टी का नाम नहीं लिया है लेकिन सूत्रों की माने तो सीबीडीटी की रिपोर्ट में कांग्रेस पार्टी का नाम है।

Related posts