फेसबुक के 26.7 करोड़ से ज्यादा यूजर्स का डाटा लीक, एक्सैस के लिए किसी पासवर्ड की भी जरूरत नहीं

facebook

चैतन्य भारत न्यूज

सोशल मीडिया कंपनी Facebook के यूजर्स की प्राइवेसी एक बार फिर खतरे में पड़ गई है। तकनीकी क्षेत्र में काम करने वाली ब्रिटेन की कंपनी Bob Diachenko ने दावा किया है कि 26.7 करोड़ फेसबुक यूजर का डाटा वेब पर सार्वजनिक हो चुका है। जानकारी के मुताबिक, इतनी बड़ी संख्या में यूजर्स का ये डाटा बिना किसी सिक्योरिटी के सर्वजनिक रूप से इंटरनेट पर उपलब्ध था। इतना ही नहीं बल्कि इसे एक्सैस करने के लिए किसी पासवर्ड की जरूरत भी नहीं थी।



रिपोर्ट के मुताबिक, इस डाटा में 267 मिलियन यूजर्स का आइडी, फोन नंबर और पूरा नाम शामिल है। रिसर्चर का मानना है कि, फेसबुक का ये डेटा अवैध स्क्रैपिंग ऑपरेशन या फेसबुक API का गलत इस्तेमाल करके इक्कठा किया गया है। रिपोर्ट में चेतावनी भी दी गई है कि, इससे यूजर्स को फिशिंग स्कैम या स्पैम मैसेजिस का सामना करना पड़ सकता है। अमेरिकी टेक वेबसाइट Engadget से फेसबुक ने कहा कि, ‘हम इस मामले को देख रहे हैं, लेकिन हम ऐसा मानते हैं कि ये डेटा पिछले कुछ सालों से पहले का है, क्योंकि हमने हाल ही में यूजर्स की इनफॉर्मेशन प्रोटेक्ट करने के लिए बदलाव किए हैं।’

वैसे यदि यह खबर सही है तो इससे यूजर्स की प्राइवेसी पर बड़ा खतरा आ सकता है। रिसर्चर ने बताया कि, फेसबुक का यूजर डेटा हैकर फोरम में एक जगह पर डाउनलोड लिंक के साथ अपलोड किया गया है। इन फेसबुक डेटा का गलत इस्तेमाल किया गया है या नहीं ये फिलहाल साफ नहीं है। गौरतलब है कि नवंबर में ही एक रिपोर्ट सामने आई थी जिसमें यह बताया गया था कि, फेसबुक और ट्वीटर यूजर्स का डाटा कुछ एंड्रॉइड एप डिवैल्पर्स के पास देखा गया है।

ये भी पढ़े…

इस भारतीय शख्स ने फेसबुक ऐप में निकाली बड़ी खामी, इनाम में मिले 23 लाख रुपए

फेसबुक-गूगल पर विज्ञापन देने वाली पार्टियों में बीजेपी सबसे आगे

चुनाव से पहले फेसबुक ने कांग्रेस को दिया बड़ा झटका 

Related posts