इन मांगों को लेकर दिल्ली में प्रदर्शन कर रहे उत्तर प्रदेश के हजारों किसान, 10 दिन पैदल यात्रा कर पहुंचें

farmers protest

चैतन्य भारत न्यूज

नई दिल्ली. देश की राजधानी दिल्ली में उत्तर प्रदेश के हजारों किसान अपनी मांगों को लेकर आज प्रदर्शन कर रहे हैं। किसान अपनी 10 से ज्यादा मांगों को लेकर केंद्रीय सरकार के सामने रखने के लिए सहारनपुर से दिल्ली तक पैदल यात्रा करते हुए आए। किसानों के प्रदर्शन करने से पहले दिल्ली पुलिस ने सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम कर लिए हैं और दिल्ली मेरठ एक्सप्रेसवे पर भारी सुरक्षा बल भी तैनात कर दिया है। फ्लाई ओवर के ऊपर और नीचे सीआरपीएफ और दिल्ली पुलिस के जवान तैनात हैं।


किसानों की पैदल यात्रा 11 सितंबर से शुरू हुई थी जो 20 सितंबर को नोएडा पहुंची। इस रैली का नेतृत्व भारतीय किसान संगठन कर रहा है। भारतीय किसान संगठन ने अपनी मांगों को लेकर पहले कृषि मंत्रालय से बातचीत भी की लेकिन जब इसका कोई नतीजा नहीं निकला तो किसानों ने अपनी मांग के साथ दिल्ली के किसान घाट पर प्रदर्शन करने का फैसला लिया।

ये हैं किसानों की प्रमुख मांगें

  • देश के सभी किसानों के कर्जे पूरी तरह माफ हों।
  • सिंचाई के लिए मुफ्त में बिजली मिले।
  • किसान व मजदूरों की शिक्षा एवं स्वास्थ्य मुफ्त।
  • 60 वर्ष की आयु के बाद किसान-मजदूरों को 5,000 रुपए महीना पेंशन मिले।
  • किसान प्रतिनिधियों की मौजूदगी में फसलों के दाम तय किए जाएं।
  • खेती करने वाले किसानों की दुर्घटना में मौत होने पर उन्हें शहीद का दर्जा दिया जाए।
  • किसान और उसके परिवार को दुर्घटना बीमा योजना का लाभ मिले।
  • पश्चिमी उत्तर प्रदेश में भी हाईकोर्ट और एम्स की स्थापना की जाए।
  • गोवंश की देखभाल के लिए 300 रुपए रोजाना दिए जाए।
  • गन्ने का भुगतान ब्याज सहित हो।
  • समस्त दूषित नदियों को प्रदूषण मुक्त कराया जाए।
  • भारत में स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट लागू हो।

ये भी पढ़े…

जय किसान समृद्धि योजना लागूः किसानों को गेहूं पर मिलेगी 160 रुपए प्रति क्विंटल प्रोत्साहन राशि 

VIDEO : किसान ने बनाई ऊंचे पेड़ों पर चढ़ने वाली बाइक, ऐसे करेगी काम

मध्य प्रदेश के किसानों के लिए कमलनाथ सरकार एक बार फिर ला रही ये बड़ा तोहफा

खुले में शौच कर रहा था किसान, नाराज हाथी ने दी सजा, पटक-पटककर कर दिया बुरा हाल

 

 

Related posts