30 बच्चों के मजदूर पिता को खुदाई में मिले दो कीमती रत्न, रातों-रात बना 25 करोड़ का मालिक

चैतन्य भारत न्यूज

डोडोमा. किस्मत का लिखा भला कौन टाल सका है। खराब किस्मत को तो सभी रोते हैं, लेकिन अगर किस्मत आपकी ऐसी हो कि आपको फर्श से अर्श तक पहुंचा दे तो क्या ही कहना। लेकिन ऐसी किस्मत कम ही लोगों को नसीब होती है। हाल ही में तंजानिया से ऐसा ही एक मामला सामने आया है जहां एक मजदूर की किस्मत ऐसी पलटी कि अब यह करोड़पति बन गया है।

25 करोड़ से ज्यादा में मिले रत्न

खुदाई के दौरान 52 साल के सनिनीयू लैजर नाम के मजदूर को दो अलग-अलग वजन के बैंगनी-नीले रंग के बेशकीमती रत्न मिले। जानकारी के मुताबिक, एक मणि पत्थर 9.27 किलो का मिला जबकि दूसरे पत्थर का वजन 5.103 किलो मापा गया। इस बारे में खान मंत्रालय के प्रवक्ता ने जानकारी दी। एक सप्ताह बाद लैजर इन बेशकीमती रत्नों को बेचकर खरबपति बन गया। इसी रत्न के बदले तंजानिया सरकार ने 7.74 बिलियन तंजानिया शिलिंग यानी 3.35 मिलियन डॉलर (करीब 25 करोड़ 36 लाख के बराबर) का चेक दिया।

30 बच्चों के पिता हैं लैजर

जानकारी के मुताबिक, सनिनीयू लैजर 30 बच्चों के पिता हैं और उनकी चार शादियां हुई हैं। इस रत्न के मिलने के बाद लैजर ने बताया कि, ‘मैं कठिन मेहनत और लगन से अपना कार्य करता हूं। यह यकीन नहीं था कि ये रत्न मुझे मिल जाएगा।’ इतना ही नहीं बल्कि उन्हें एक कार्यक्रम के दौरान सम्मानित किया गया। गौरतलब है कि तंजानिया ने पिछले साल देश भर में ऐसे व्यापारिक केंद्र स्थापित किए, जहां खननकर्मी सरकार को रत्न और सोना बेच सकते हैं। इसका मकसद अवैध ट्रेड को रोकना है।

ये भी पढ़े…

कोरोना वायरस के डर से केरल में काम छोड़ गांव लौटा शख्स, घर पहुंचा तो खुली 1 करोड़ की लॉटरी

केरल: रातोंरात करोड़पति बना दिहाड़ी मजदूर, लगी 12 करोड़ की लॉटरी

Related posts