दिल्ली पुलिस ने ग्रेटा थनबर्ग के खिलाफ दर्ज की एफआईआर, किसान आंदोलन को लेकर किया था भड़काऊ ट्वीट

चैतन्य भारत न्यूज

नए कृषि कानूनों के विरोध में देश की राजधानी दिल्ली में करीब ढाई महीने से किसान आंदोलन जारी है। इस आंदोलन को लेकर अब विदेशी हस्तियां भी टिप्पणी करने लगी हैं। स्वीडन की रहने वाली पर्यावरण कार्यकर्ता ग्रेटा थनबर्ग ने भी किसान आंदोलन को लेकर ट्वीट किया था जिसे लेकर उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली गई है। जानकारी के अनुसार, दिल्ली पुलिस ने भड़काऊ ट्वीट करने के मामले में धारा 153ए और 120बी के तहत मामला दर्ज किया है।

पर्यावरण एक्टिविस्ट ग्रेटा थनबर्ग ने एफआईआर होने के बाद एक और ट्वीट कर कहा कि, वो किसानों के साथ खड़ी हैं। उन्होंने ट्वीट करके कहा कि, ‘मैं किसानों के शांतिपूर्ण विरोध प्रदर्शन के साथ हूं। कोई भी नफरत, धमकी इसे बदल नहीं सकती।’

दरअसल, ग्रेटा थनबर्ग ने किसानों के समर्थन में किए गए अपने ट्वीट में भारत की सत्तारूढ़ पार्टी पर सवाल खड़े किए थे। ग्रेटा ने ट्वीट कर कहा था भारत सरकार पर किस तरह दबाव बनाया जा सकता है, इसके लिए उन्होंने अपनी कार्य योजना से से संबंधित एक दस्तावेज भी साझा किया, जो भारत विरोधी प्रोपेगेंडा मुहिम की हिस्सा हैं। इसकी काफी निंदा हुई थी।

किसानों के मसले पर ग्रेटा के अलावा और भी कई विदेशी हस्तियों ने ट्वीट किया था। इसे लेकर विदेश मंत्रालय द्वारा बुधवार को एक बयान जारी किया गया था। विदेश मंत्रालय ने कहा कि, ये देखकर दुख हुआ कि कुछ संगठन और लोग अपना एजेंडा थोपने के लिए इस तरह का बयान जारी कर रहे हैं। किसी भी तरह का कमेंट करने से पहले तथ्यों और परिस्थितियों की जांच करना जरूरी है। ऐसी स्थिति में किसी भी सेलेब्रिटी द्वारा संवेदनशील ट्वीट करना या हैशटैग चलाना जिम्मेदाराना भरा कदम नहीं है।

किसानों के समर्थन में उतरीं रिहाना और मिया खलीफा समेत कई हॉलीवुड हस्तियां, विदेश मंत्रालय ने दिया मुंहतोड़ जवाब

क्रिकेटर रोहित शर्मा पर फूटा कंगना रनौत का गुस्सा, कहा धोबी का कुत्ता 

Related posts