इंदौर: देश में कोरोनावायरस से पहले डॉक्टर की मौत, नहीं कर रहे थे कोरोना मरीजों का इलाज, फिर भी हुए संक्रमित

dr shatrughan panjwani

चैतन्य भारत न्यूज

इंदौर. कोरोना वायरस का संक्रमण भारत में लगातार बढ़ता जा रहा है। अब इस वायरस की चपेट में आने से देश में पहले डॉक्टर की मौत हो गई है। मध्य प्रदेश के इंदौर के रहने वाले डॉ. शत्रुघ्‍न पंजवानी ने गुरुवार सुबह चार बजे अंतिम सांस ली। जिले के सीएमएचओ ने इसकी पुष्टि कर दी है।

स्वास्थ्य विभाग के सीएमएचओ डॉ. प्रवीण जड़िया के मुताबिक, डॉ. शत्रुघ्‍न पंजवानी पिछले दिनों कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे। उन्हें उपचार के लिए सबसे पहले गोकुलदास अस्पताल में भर्ती कराया गया था। फिर उन्हें सीएचएल अपोलो अस्पताल और फिर अरविंदों अस्पताल में शिफ्ट किया गया था। उनकी हालत लगातार गंभीर बनी हुई थी, जिसके बाद डॉ. पंजवानी की आज सुबह मौत हो गई। डॉ. पंजवानी इंदौर के रुपराम नगर में रहते थे।

जानकारी के मुताबिक, डॉ. पंजवानी कोरोना संक्रमित मरीजों का इलाज नहीं कर रहे थे। ऐसे में यह आशंका जताई जा रही है कि वह किसी कोविड-19 से संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आए होंगे। वे कुछ दिनों पहले कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए थे। बता दें डॉ. पंजवानी प्राइवेट प्रैक्टिशनर थे।

मध्यप्रदेश में इंदौर में ही कोरोना से सबसे ज्यादा हालत खराब है। बुधवार तक इंदौर में कोरोना वायरस संक्रमित मरीजों की संख्या 213 तक पहुंच गई है। इनमें से 21 की मौत हो चुकी है। हालांकि, 14 लोग इलाज के बाद ठीक भी हुए हैं। मध्य प्रदेश में इंदौर के अलावा मुरैना में 13, उज्जैन में 15, जबलपुर में 9, भोपाल में 94, ग्वालियर में 6, शिवपुरी में 2, खरगोन में 12, छिंदवाड़ा में 2, बड़वानी में 12, विदिशा में 2, बैतूल में 1, होशंगाबाद में 6, श्योपुर, रायसेन, खंडवा और धार में एक-एक पॉजिटिव मामले सामने आए हैं।

ये भी पढ़े…

इंदौर: कोरोना से अब तक 16 लोगों की मौत, लेकिन कब्रिस्तान पहुंचे 120 जनाजे, आंकड़ें देख प्रशासन भी चौंका

इंदौर: डॉक्टरों पर पत्थरबाजी करने पर मुस्लिम समुदाय शर्मिंदा, विज्ञापन छपवाकर मांगी माफी

इंदौर: जिस इलाकें में लोगों ने डॉक्टरों पर की थी पत्थरबाजी, वहां से 10 कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले

Related posts