पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली का निधन, कैंसर और किडनी संबंधित बीमारी से थे पीड़ित

arun jaitly death

चैतन्य भारत न्यूज

नई दिल्ली. पूर्व वित्त मंत्री और भाजपा के दिग्गज नेता अरुण जेटली का शनिवार दोपहर 12 बजकर 7 मिनट पर निधन हो गया है। वह पिछले कई दिनों से दिल्ली के एम्स अस्पताल में भर्ती थे। सोशल मीडिया पर कई बड़े राजनेताओं समेत आम जनता ने अरुण जेटली को श्रद्धांजलि दी।



बता दें 9 अगस्त को उन्हें अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में भर्ता कराया गया था। जेटली को सांस लेने में तकलीफ, घबराहट और कमजोरी होने लगी थी जिसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था। आखिरी समय में उनकी हालत और ज्यादा खराब हो गई थी जिसके बाद डॉक्टर ने उन्हें वेंटिलेटर से हटाकर ईसीएमओ यानी एक्सट्राकॉर्पोरियल मेंब्रेन ऑक्सीजिनेशन पर शिफ्ट कर दिया था। जेटली पिछले कई महीनों से बीमार चल रहे थे। उन्हें सॉफ्ट टिशू नामक कैंसर था। पिछले साल मई में जेटली का किडनी ट्रांसप्लांट भी हुआ था। किडनी की बीमारी होने के साथ ही कैंसर के कारण उनकी हालत और ज्यादा नाजुक हो गई थी। कैंसर के इलाज के लिए वे इस साल जनवरी में अमेरिका भी गए थे।


पिछली मोदी सरकार में जेटली वित्त मंत्री रहे थे। इससे पहले कुछ दिनों तक वह रक्षा मंत्री भी रह चुके हैं। सेहत संबंधी दिक्कतों के कारण इस बार जेटली मोदी सरकार का हिस्सा नहीं बने। उन्होंने एक पत्र के माध्यम से कहा था कि वह इस बार मंत्रिमंडल में किसी भी तरह की जिम्मेदारी नहीं लेना चाहते हैं।

 

Related posts