मस्तिष्क की सर्जरी के बाद वेंटिलेटर पर हैं पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी, सोमवार को पाए गए कोरोना पॉजिटिव

pranub mukherjee

चैतन्य भारत न्यूज

नई दिल्ली. पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की रक्त का थक्का हटाने के लिए मस्तिष्क की सफल सर्जरी की गई। जानकारी के मुताबिक, अब वह वेंटिलेटर सपोर्ट पर हैं। बता दें सोमवार को सर्जरी से पहले 84 साल के मुखर्जी का कोरोनावायरस टेस्ट भी पॉजिटिव पाया गया था। उन्होंने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी थी।


पूर्व राष्ट्रपति ने ट्वीट में लिखा था कि, ‘एक अलग प्रक्रिया के लिए अस्पताल आया हूं और यहां मेरा कोविड-19 परीक्षण पॉजिटिव आया है। पिछले सप्ताह मेरे संपर्क में आए लोगों से मैं अनुरोध करता हूं कि वे स्वयं को आइसोलेट कर लें और कोविड-19 का परीक्षण कराएं।’

जानकारी के मुताबिक, 85 वर्षीय मुखर्जी की सेना के रिसर्च और रेफरल (आर एंड आर) अस्पताल में मस्तिष्क की सर्जरी हुई। यह सर्जरी उनके मस्तिष्क में बने खून के थक्के हटाने के लिए की गई। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने आर एंड आर अस्पताल का दौरा किया और पूर्व राष्ट्रपति के स्वास्थ्य के बारे में जानकारी ली। वह करीब 20 मिनट तक अस्पताल में रहे। फिलहाल मुखर्जी की हालत गंभीर बनी हुई है इसलिए उन्हें वेंटीलेटर पर रखा गया है।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने मुखर्जी के जल्द स्वस्थ होने की कामना की है। उन्होंने मुखर्जी की बेटी शर्मिष्ठा मुखर्जी से बात कर उनके पिता की तबीयत के बारे में पूछा। राष्ट्रपति भवन ने ट्वीट किया, ‘राष्ट्रपति ने शर्मिष्ठा मुखर्जी से बात कर उनके पिता पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की तबीयत के बारे में जानकारी ली। राष्ट्रपति ने उनके जल्द स्वस्थ होने और अच्छे स्वास्थ्य की कामना की।’

यह भी पढ़े…

 पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी भी हुए कोरोना संक्रमण का शिकार, जांच रिपोर्ट आई पॉजिटिव

 

 

Related posts